Indigo ने सबसे बड़ी घरेलू विमानन कंपनी का बरकरार रखा रिकॉर्ड; जानें हवाई यात्राओं में कितनी हुई बढ़ोतरी

New Delhi: घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या नवंबर महीने में 9.06 फीसदी बढ़कर 1.27 करोड़ से अधिक रही। एक साल पहले इसी महीने में यह संख्या 1.17 करोड़ थी।
Indian Airlines
Indian AirlinesRaftaar.in

नई दिल्ली, हि.स.। घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या नवंबर महीने में 9.06 फीसदी बढ़कर 1.27 करोड़ से अधिक रही। एक साल पहले इसी महीने में यह संख्या 1.17 करोड़ थी। इसके साथ ही इंडिगो एयरलाइन देश की सबसे बड़ी घरेलू विमानन कंपनी बनी रही।

9.06 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज

नागरिक विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने डीजीसीए ने शुक्रवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों में बताया कि नवंबर में हवाई यात्रा करने वालों की संख्या 1.27 करोड़ रही जबकि पिछले साल इसी महीने में यह संख्या 1.17 करोड़ रही थी। इसमें सालाना आधार पर 9.06 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

इंडिगो देश की सबसे बड़ी घरेलू विमानन कंपनी

आंकड़ों के अनुसार इस दौरान इंडिगो देश की सबसे बड़ी घरेलू विमानन कंपनी बनी रही। हालांकि, नवंबर में इसकी बाजार हिस्सेदारी घटकर 61.8 फीसदी हो गई है, जो अक्टूबर में 62.6 फीसदी रही थी। नवंबर महीने में किसी भी अनुसूचित विमानन कंपनी का ‘ऑन-टाइम परफॉर्मेंस’ (ओटीपी) अंक 80 फीसदी से अधिक नहीं रहा।

घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी

डीजीसीए के मुताबिक जनवरी-नवंबर में घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या सालाना आधार पर 25.09 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 1,382.34 लाख रही जबकि पिछले साल इसी अवधि में यह संख्या 1,105.10 लाख रही थी। आंकड़ों के मुताबिक स्पाइसजेट की घरेलू बाजार हिस्सेदारी अक्टूबर में 5 फीसदी से बढ़कर नवंबर महीने में 6.2 फीसदी हो गई, पिछले महीने इसका ओटीपी स्कोर 41.8 फीसदी था।

विमान नियामक के मुताबिक...

विमान नियामक के मुताबिक एयर इंडिया की घरेलू बाजार हिस्सेदारी नवंबर में 10.5 फीसदी पर अपरिवर्तित रही जबकि विस्तारा की हिस्सेदारी पिछले महीने मामूली गिरावट के साथ 9.4 फीसदी रह गई। अकासा एयर और एआईएक्स कनेक्ट की हिस्सेदारी नवंबर में क्रमशः 4.2 फीसदी और 6.6 फीसदी पर अपरिवर्तित रही। एयर इंडिया का ओटीपी स्कोर 62.5 फीसदी, जबकि एईक्स कनेक्ट तथा एलायंस एयर का ओटीपी स्कोर क्रमशः 69.7 फीसदी और 66.1 फीसदी रहा है।

‘ऑन-टाइम परफॉर्मेंस’

उल्लेखनीय है कि अनुसूचित घरेलू एयरलाइन कंपनियों के ‘ऑन-टाइम परफॉर्मेंस’ (ओटीपी) की गणना 4महानगरों के हवाई अड्डों बेंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई पर उनकी सेवाओं के आधार पर की जाती है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.