Apple ने Samsung और LG को दिए 23 हजार करोड़ रुपये, यूजर्स जरूर जानें एप्पल प्रोडक्ट्स की सच्चाई

Business Deal : एप्पल और सैमसंग के बीच हमेशा खुद को बेहतर बताने की जंग छिड़ी रहती है। दोनों के बीच का टकराव दुनिया जानती है, लेकिन आपको पता है कि एप्पल सैमसंग पर ढेरों पैसे लुटा रहा है।
एप्पल और सैमसंग।
एप्पल और सैमसंग।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। एप्पल और सैमसंग के बीच हमेशा खुद को बेहतर बताने की जंग छिड़ी रहती है। दोनों के बीच का टकराव दुनिया जानती है, लेकिन आपको पता है कि एप्पल सैमसंग पर ढेरों पैसे लुटा रहा है। अब सवाल है कि आखिर क्यों ये प्रतिस्पर्धी दिग्गज कंपनियां एक हो गईं हैं। दरअसल, यह व्यापारिक रिश्ता है। एप्पल अपने प्रोडक्ट बनाने के लिए सैमसंग के पार्ट्स का इस्तेमाल करता है।

आईफोन आदि में दूसरी कंपनियों के लगते हैं पार्ट्स

आपको जानकार हैरानी होगी कि एप्पल आईफोन जैसी डिवाइस में सैमसंग और एलजी की डिस्प्ले लगाई जाती है। Sony और Samsung के कैमरे लगाए जाते हैं। इन्हीं पार्ट्स के बदले एप्पल द्वारा सैमसंग, सोनी, एलजी को पैसे दिए जाते हैं। माना जा रहा कि एप्पल अपना नया iPad Pro मॉडल जल्द लांच करेगा। इसमें OLED डिस्प्ले होगी। बता दें LCD पैनल के मुकाबले में ओएलईडी स्क्रीन ज्यादा शानदार होती है।

iPad Pro के लिए OLED पैनल की करनी है सप्लाई

कोरिया इकोनॉमिक डेली की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सैमसंग डिस्प्ले और एलजी डिस्प्ले को नए 11 इंच और 12.9 इंच iPad Pro के लिए 4 से 4.5 मिलियन OLED पैनल की सप्लाई करनी है। आंकड़े बताते हैं कि 11 इंच और 12.9 इंच OLED पैनल की कीमत 290 डॉलर से 390 डॉलर प्रति यूनिट है। उम्मीद जताई जा रही है कि एप्पल ने सैमसंग और एलजी को नए iPad Pro डिस्प्ले के लिए 2.9 बिलियन डॉलर यानी 23 हजार करोड़ रुपए दिए होंगे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.