ये सिर्फ बिहार में ही हो सकता है! रणजी मैच में 2 टीमें खेलने उतर गईं, पुलिस ने एक को रोका तो अफसर पर हमला

Ranji Match in Bihar : बिहार में 23 साल बाद शुरू हुए रणजी ट्रॉफी एलिट ग्रुप मैच से पहले विवाद खड़ा हुआ। पटना के मोइन-उल हक स्टेडियम में बिहार की 2 अलग-अलग टीमें मैदान पर आ गईं।
पटना के मोइन-उल हक स्टेडियम में खेला जा रहा रणजी मैच और इनसेट में पत्थरबाजी में घायल ओएसडी।
पटना के मोइन-उल हक स्टेडियम में खेला जा रहा रणजी मैच और इनसेट में पत्थरबाजी में घायल ओएसडी।रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। बिहार में 23 साल बाद शुरू हुए रणजी ट्रॉफी एलिट ग्रुप मैच से पहले विवाद खड़ा हुआ। पटना के मोइन-उल हक स्टेडियम में बिहार की 2 अलग-अलग टीमें मैदान पर आ गईं। इसके बाद खेल शुरू कराने के लिए पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा, लेकिन एक टीम ने पुलिस अधिकारी पर ही हमला कर दिया। इसमें ओएसडी गंभीर रूप से घायल हो गए। दरअसल, बिहार क्रिकेट एसोसिएशन (BCA) के अध्यक्ष ने एक टीम और दूसरी सचिव ने चुनी थी। पुलिस ने सचिव की टीम को स्टेडियम के बाहर से लौटाया तो लोगों ने स्पेशल ड्यूटी ऑफिसर (OSD) मनोज कुमार पर जानलेवा हमला किया। उनके ऊपर पत्थरबाजी की गई।

पुलिस ने सचिव की टीम को लौटाया

मुकाबला मोइन-उल हक स्टेडियम में शुक्रवार की सुबह 9:30 बजे मुंबई और बिहार टीम में होना था। मगर, बिहार की 2 टीमें मैदान पर उतर गईं। इससे हंगामा मच गया। आखिर में अध्यक्ष की टीम मैदान में उतरी और मैच डेढ़ घंटे की देरी से 11 बजे शुरू हो सका।

मुंबई के 9 विकेट गिराए

41 बार की रणजी चैंपियन मुंबई से बिहार का सामना हो रहा है। बिहार ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी है। पहले दिन का खेल खत्म होने तक मुंबई ने 9 विकेट पर 235 रन बनाए। मैच 8 जनवरी तक चलेगा।

अध्यक्ष पक्ष- सचिव सस्पेंड हो चुके हैं

बिहार की 2 रणजी टीमों को लेकर बीसीए के प्रवक्ता संजीव कुमार मिश्रा ने कहा, 'अमित कुमार BCA के सचिव थे, उन्हें सस्पेंड कर दिया गया है। अब उनका BCA से लेना देना नहीं है। अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.