Birthday Special: राहुल द्रविड़ अब भी 'दीवार', तेंदुलकर और कोहली तक नहीं तोड़ पाए उनका ये रिकॉर्ड

Rahul dravid Record: टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रव‍िड़ का आज जन्मदिन है। टीम इंडिया मोहाली में आज अफगान‍िस्तान के ख‍िलाफ टी-20 सीरीज खेलेगी।
राहुल द्रविड़।
राहुल द्रविड़।@BCCI एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रव‍िड़ का आज जन्मदिन है। टीम इंडिया मोहाली में आज अफगान‍िस्तान के ख‍िलाफ टी-20 सीरीज खेलेगी। लिहाजा, कप्तान रोह‍ित शर्मा जीत के तौर पर राहुल को बर्थडे ग‍िफ्ट देना चाहेंगे। टीम इंडिया की दीवार, म‍िस्टर वॉल नाम से फेमस राहुल द्रव‍िड़ जब पिच पर होते थे तो उनका आउट करना गेंदबाजों के लिए मुश्क‍िल हो जाता था। द्रव‍िड़ के नाम कई ऐत‍िहास‍िक रिकॉर्ड हैं। मगर, एक ऐसा रिकॉर्ड है, जो अब तक कायम है। इसे क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन और सलामी बल्लेबाज विराट कोहली भी नहीं तोड़ सके हैं। दरअसल, राहुल लंबी और टिकाऊ पारी खेलते थे। टेस्ट क्रिकेट में तो उनकी कोई सानी नहीं थी। वह परफेक्ट टीम प्लेयर थे। 2003 के वर्ल्ड कप में द्रविड़ की बदौलत टीम इंडिया बेजोड़ पारी खेली थी। 2003 में मोहम्मद कैफ भी सिर्फ और सिर्फ द्रविड़ के कारण सातवें नंबर पर खेल पाए थे। राहुल को जब जो ज‍िम्मेदारी दी गई, उन्होंने श‍िद्दत से न‍िभाई।

द्रविड़ के शानदार रिकॉर्ड

द्रव‍िड़ के वैसे कई किस्से हैं। एक किस्सा 2007-2008 के ऑस्ट्रेलिया दौरे का है। तब द्रविड़ ने मेलबर्न टेस्ट में 40 गेंद खेलकर 41वीं गेंद पर पहला रन बनाया था। इसके बाद तो दर्शकों ने कुछ इस अंदाज में ताल‍ियां बजाई थीं, जैसे द्रव‍िड़ ने शतक बनाया हो। कुल मिलाकर वह प‍िच पर जम जाते थे। द्रव‍िड़ ने टी-20, वनडे और टेस्ट क्रिकेट में बिना जीरो (0) या डक पर आउट हुए ब‍िना सबसे अधिक 173 पार‍ियां खेली थीं। यह कारनामा 10 जनवरी 2000 से 6 फरवरी 2004 के बीच किया। यह किसी भी ख‍िलाड़ी द्वारा सबसे अधिक है। इस क्रम में दूसरे नंबर पर सच‍िन तेंदुलकर रहे, ज‍िन्होंने नाबाद 136 पार‍ियां खेली थीं। इनमें 29 अगस्त 1999 से 6 फरवरी 2004 के बीच द्रव‍िड़ की 120 वनडे पार‍ियां भी शामिल हैं। उस वक्त म‍िस्टर वॉल एक बार भी 0 पर आउट नहीं हुए थे।

द्रव‍िड़ का ओवरऑल कॅर‍ियर

इंदौर शहर में जन्मे द्रव‍िड़ ने 164 टेस्ट मैचों में 36 शतक और 63 अर्धशतक जमाए। इसके साथ 13288 रन 52.31 की औसत से बनाए। 344 वनडे में भी द्रव‍िड़ के नाम 10889 रन रहे। उन्होंने 12 शतक और 83 अर्धशतक बनाए। इनके नाम आज भी टेस्ट क्रिकेट में बतौर फील्डर सबसे ज्यादा 210 कैच पकड़ने का रिकॉर्ड है। टीम इंडिया से दो ही ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने टेस्ट और वनडे फॉर्मेट में 10 हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। सचिन तेंदुलकर के अलावा द्रविड़ ने टेस्ट 13288 रन बनाए हैं। इनमें 36 शतक और 63 अर्धशतक हैं। वनडे में 10889 रन बनाए हैं। इनमें 12 शतक शामिल हैं।

द्रविड़ की कप्तानी में पहली बार साउथ अफ्रीका में मिली थी जीत

द्रविड़ की कप्तानी में भारत को साउथ अफ्रीका की धरती पर पहली टेस्ट जीत मिली थी। टीम ने दिसंबर 2006 दौरे के जोहानिसबर्ग टेस्ट में अफ्रीकी टीम को को 123 रनों से हराया था। द्रविड़ की कप्तानी में इंग्लैंड में भारत को 21 साल बाद 2007 में 1-0 से टेस्ट सीरीज जीत मिली थी। इससे पहले टीम इंडिया 1986 में कप‍िल देव की कप्तानी में इंग्लैंड में सीरीज जीत पाया था। खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.