Indian Railways: 171 साल पहले आज ही के दिन पहली बार चली थी पहली पैसेंजर ट्रेन; यह था रूट, 400 लोग थे सवार

First Indian Rail: भारतीय रेल के लिए आज का दिन ऐतिहासिक है। 171 साल पहले आज ही के दिन पहली भारतीय पैसेंजर ट्रेन ने अपना सफर पूरा किया था।
भारतीय पैसेंजर ट्रेन।
भारतीय पैसेंजर ट्रेन। @RailMinIndia एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। देश और भारतीय रेल के लिए आज की तारीख बेहद अहम है। 1853 को आज के ही दिन भारत में पहली पैसेंजर ट्रेन चली थी। यह ट्रेन बम्बई (अब मुंबई) से ठाणे के बीच चलाई गई थी। तब केवल 14 डिब्बों वाली ट्रेन थी, जिसको खींचने के लिए तीन इंजन लगाए गए थे। इस ट्रेन में 400 यात्री सवार थे।

ट्रेन को दी गई थी 21 तोपों की सलामी

ट्रेन 16 अप्रैल 1853 की दोपहर 03:35 बजे तत्कालीन बॉम्बे स्थित बोरीबंदर (Bori Bunder) रेलवे स्टेशन से रवाना हुई थी। सफर 33 किलोमीटर दूर थाने (Thane) था। इस ट्रेन करे 21 तोपों की सलामी दी गई थी। इंडियन रेलवे फैन क्लब एसोसिएशन के अनुसार उस ट्रेन ने 33.80 किलोमीटर की यात्रा 1.15 घंटा में पूरी की थी। ट्रेन के डिब्बे आज के रेल डिब्बों से तुलना में माचिस की डिब्बी की तरह थे।

दो स्टेशनों पर रुकी थी ट्रेन

वह ट्रेन दो स्टेशनों पर रुकी थी। बोरीबंदर स्टेशन से रवाना होकर 8 किलोमीटर चलने के बाद यह ट्रेन भायखला में रुकी थी, जहां इसके इंजन में पानी भरा गया था। वहां से रवाना होने के बाद थोड़ी देर के लिए ट्रेन सायन में रुकी। इस पूरे डेढ़ घंटे के सफर में रेल 15-15 मिनट के लिए 2 स्टेशनों पर ठहरी थी।

1835 में बिछाई गई थी पहली रेल लाइन

कुछ अन्य रेलवे कंपनियों ने भारत में कंस्ट्रक्शन मैटेरियल ढोने के लिए 1853 से पहले ट्रेनों का संचालन शुरू किया था। कुछ प्रमाण हैं कि साल 1835 में मद्रास में चिंताद्रिपेट के पास छोटी प्रायोगिक रेल लाइन बिछाई गई थी, जिसे 1837 में खोला गया था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.