Delhi Murder: अंकित सक्सेना मर्डर केस मामले में दोषियों की सजा टली, 31 जनवरी को होगी सुनवाई

New Delhi: दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने 2018 के अंकित सक्सेना मर्डर केस में दोषियों को सजा देने के मामले पर सुनवाई टाल दी है। एडिशनल सेशंस जज सुनील कुमार शर्मा ने 31 जनवरी को सुनवाई का आदेश दिया है।
Tis Hazari Court
Tis Hazari Court Raftaar.in

नई दिल्ली, हि.स.। दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने 2018 के अंकित सक्सेना मर्डर केस में दोषियों को सजा देने के मामले पर सुनवाई टाल दी है। एडिशनल सेशंस जज सुनील कुमार शर्मा ने 31 जनवरी को सुनवाई का आदेश दिया है। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस, दिल्ली विधिक सहायता प्राधिकार और दोषियों के वकीलों को हलफनामा दाखिल करने का निर्देश दिया जिसमें दोषियों की आमदनी, उनकी जिम्मेदारी और पूर्व के आपराधिक इतिहास का विस्तृत विवरण देने का निर्देश दिया। सुनवाई के दौरान दोषियों के वकील ने मीडिया रिपोर्टिंग पर सवाल उठाते हुए उस पर रोक लगाने की मांग की। दोषियों की ओर से पेश इस दलील का दिल्ली पुलिस की ओर से विरोध करते हुए कहा कि दोषी करार देने का आदेश मीडिया में चलाया गया है जो सार्वजनिक दस्तावेज के आधार पर चलाया जा रहा है।

अंकित सक्सेना के दूसरे धर्म की लड़की से प्रेम संबंध थे

उल्लेखनीय है कि 2018 में पश्चिमी दिल्ली के ख्याला में अंकित सक्सेना की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी। अंकित सक्सेना के दूसरे धर्म की लड़की से प्रेम संबंध थे। कोर्ट ने 23 दिसंबर 2023 को इस हत्याकांड के तीन दोषियों को दोषी करार दिया था। कोर्ट ने तीनों आरोपितों को आईपीसी की धारा 302 एवं 34 के तहत दोषी करार दिया था। धारा 302 के तहत उम्रकैद से लेकर फांसी तक की सजा का प्रावधान है।

कोर्ट ने तीन आरोपियों को पाया दोषी

कोर्ट ने अंकित सक्सेना की हत्या के मामले में लड़की के माता-पिता और उसके मामा को दोषी करार दिया था। इस मामले में कोर्ट ने दिल्ली पुलिस की ओर से 28 गवाहों के बयान और उनकी ओर से पेश साक्ष्यों को दर्ज किया था। 28 गवाहों में अंकित सक्सेना के पिता और शिकायतकर्ता यशपाल सक्सेना, मां कमलेश और अंकित के दो दोस्तों नितिन और अनमोल सिंह प्रमुख हैं।

आरोपितों ने अंकित की धारदार हथियार से गला काटा

घटना 1 फरवरी 2018 की है। अंकित की प्रेमिका अपने घर से निकल गई थी। इससे बौखलाए लड़की के माता-पिता और रिश्तेदारों ने अंकित की हत्या की थी। पहले तो लड़की के माता-पिता और दूसरे रिश्तेदारों का अंकित और उसके परिवार वालों से कहासुनी हुई। इस दौरान लड़की के माता-पिता और रिश्तेदारों ने अंकित की जमकर पिटाई की। पिटाई के दौरान जब अंकित की मां उसे बचाने आई तो उसके साथ भी आरोपितों ने मारपीट की।

पुलिस के मुताबिक अंकित की मां ने कहा कि उसके सामने आरोपितों ने अंकित की धारदार हथियार से गला काट दिया। अंकित की मां अंकित को ई-रिक्शा में लेकर अस्पताल पहुंची जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। अंकित पेशे से फोटोग्राफर था।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.