Bihar News: बिहार के बेगूसराय में शराब तस्कर बेखौफ, दरोगा को रौंदा; एक जवान घायल

Bihar News: बेगूसराय में बेखौफ शराब कारोबारी ने बीते रात एक पुलिस पदाधिकारी की जान ले ली। गुप्त सूचना के आधार पर शराब कारोबारी को पकड़ने गई नावकोठी थाना की पुलिस पर कारोबारी ने गाड़ी चढ़ा दी।
Khamas Chaudhary
Khamas Chaudharyraftaar.in

बेगूसराय, (हि.स.)। बिहार के बेगूसराय में बेखौफ शराब कारोबारी ने बीते रात एक पुलिस पदाधिकारी की जान ले ली। गुप्त सूचना के आधार पर शराब कारोबारी को पकड़ने गई नावकोठी थाना की पुलिस पर कारोबारी ने गाड़ी चढ़ा दी, जिसमें पुअनि खामस चौधरी की मौत हो गई। जबकि, एक होमगार्ड जवान घायल हो गया।

पुअनि खामस चौधरी कर्तव्य के दौरान शहीद हो गए

एसपी योगेन्द्र कुमार ने घटना की जानकारी देते हुए बुधवार सुबह बताया कि नावकोठी थाना में प्रतिनियुक्त पुअनि खामस चौधरी कर्तव्य के दौरान शहीद हो गए। मंगलवार देर रात नावकोठी थानाध्यक्ष को जानकारी मिली कि एक ऑल्टो कार से कोई व्यक्ति शराब ले जा रहा है। जानकारी पर कार्रवाई के लिए रात्रि गश्ती गाड़ी को भेजा गया था। रात्रि गश्ती गाड़ी में पुअनि खमास चौधरी थे। रात के 12:30 बजे ऑल्टो कार को रोकने के लिए पुलिस की गाड़ी को छतौना बुढ़ी गंडक नदी पुल के पास लगाकर पुअनि खामस चौधरी रोड पर खुद अन्य तीन होम गार्ड जवान के साथ खड़े थे।

ऑल्टो कार ने खामस चौधरी को टक्कर मार दी थी

ऑल्टो कार वाले ने पुलिस की गाड़ी देख अपनी स्पीड बढ़ा दी और खामस चौधरी को टक्कर मार दी। जिससे वे नीचे गिर गए और पत्थर से सिर पर चोट लगने के कारण उनकी वहीं मौत हो गई। एक अन्य होम गार्ड जवान दरियापुर निवासी बालेश्वर यादव को भी चोट लगी है, जिसका सदर अस्पताल में ईलाज कराया जा रहा है।

ऑल्टो गाड़ी के मालिक को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है

घटना के तुरंत बाद बखरी एसडीपीओ चंदन कुमार, सी.आई. बखरी, एस.एच.ओ. नावकोठी के साथ-साथ घटनास्थल पर भी पहुंच गए। एसडीपीओ बखरी के नेतृत्व में विशेष टीम बना दी गई है। ऑल्टो गाड़ी के मालिक को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है। घटना के बाद परिजन में कोहराम मच गया है। वहीं, पुलिस कर्मियों में भी भारी आक्रोश है।

पोस्टमार्टम कर पुलिस लाइन में गार्ड ऑफ ऑनर दिया

उल्लेखनीय है कि मधुबनी जिले के राहिका थाना क्षेत्र स्थित मारर गांव के भोला चौधरी के पुत्र खामास चौधरी 2009 बैच के दरोगा थे। 2013 में इनकी जॉइनिंग हुई और करीब चार साल से बेगूसराय में तैनात थे। घटना की सूचना मिलने के बाद पत्नी कल्पना सहित अन्य लोगों की भीड़ जुट गई है। पोस्टमार्टम कर पुलिस लाइन में गार्ड ऑफ ऑनर देकर अंतिम संस्कार के लिए शव पैतृक गांव भेजने की तैयारी चल रही है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.