Asian Games: एशियन गेम्स में भारत के सभी रिकॉर्ड जानें, सबसे उम्रदराज और कम उम्र के ये रहे मेडलिस्ट

Asian Games 2023: चीन के हांगझोऊ में आयोजित एशियन गेम्स का आज समापन हो गया। सुबह में भव्य समापन समारोह हुआ। इस बार गेम भारत के लिए काफी ऐतिहासिक रहा है।
चीन में आज एशियन गेम्स की क्लोजिंग सेरेमनी समारोह की तस्वीर।
चीन में आज एशियन गेम्स की क्लोजिंग सेरेमनी समारोह की तस्वीर। सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। चीन के हांगझोऊ में आयोजित एशियन गेम्स का आज समापन हो गया। सुबह में भव्य समापन समारोह हुआ। इस बार गेम भारत के लिए काफी ऐतिहासिक रहा है। भारत ने 28 गोल्ड मेडल जीते हैं। इसके अलावा 38 सिल्वर और 41 ब्रांज मेडल जीते हैं। भारत के हिस्से में कुल 107 मेडल आए।

पहली बार भारत ने जीते 100 मेडल

एशियन गेम्स के इतिहास में पहली बार भारत ने 100 मेडल जीते। इस उपलब्धि को हासिल करने के साथ चीन, जापान और दक्षिण कोरिया के बाद भारत एशियाई खेलों के एक संस्करण में 100 या अधिक मेडल जीतने वाला चौथा देश बना।

भारत से 655 एथलीटों के दल ने भाग लिया

भारत ने 19 सितंबर से 8 अक्टूबर तक 41 प्रतियोगिताओं में 655 एथलीटों का दल भेजा था। महाद्वीपीय प्रतियोगिता में भारत द्वारा भेजी गई अब तक की सबसे बड़ी टीम थी। इंडोनेशिया के जकार्ता में आयोजित 2018 एशियाई खेल में भारत ने 570 एथलीट भेजे थे। तब 16 गोल्ड मेडल समेत 70 मेडल जीते थे।

निशानेबाजों ने सबसे अधिक गोल्ड मेडल जीते

निशानेबाजों ने सात गोल्ड मेडल के साथ देश के लिए सबसे अधिक गोल्ड मेडल पाए। निशानेबाजी में सात गोल्ड मेडल में से चार निशानेबाजों ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाए। पूर्व विश्व चैंपियन रुद्रांक्ष पाटिल, ओलंपियन ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर और दिव्यांश सिंह पंवार की भारतीय पुरुष 10 मीटर एयर राइफल टीम ने 10 मीटर एयर राइफल में 1893.7 का स्कोर बनाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ गोल्ड मेडल जीता।

1769 का स्कोर बनाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया

ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर, 50 मीटर राइफल 3 पोजीशन में गोल्ड मेडल जीतने वाली पुरुष टीम का हिस्सा थे। भारतीय टीम ने 1769 का स्कोर बनाकर गोल्ड मेडल के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया। मनु भाकर ने ईशा सिंह और रिदम सांगवान के साथ मिलकर 25 मीटर पिस्टल टीम स्पर्धा में 1759 का वर्ल्ड रिकॉर्ड स्कोर बनाकर गोल्ड मेडल जीता। सिफ्ट कौर सामरा ने महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3 पोजीशन में 469.6 अंकों के स्कोर के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ा।

भारतीय ट्रैक और फील्ड एथलीटों ने तीन राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए

17 वर्षीय पलक गुलिया ने महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता। 6 गोल्ड, 14 सिल्वर और 9 ब्रांज समेत 29 मेडल के साथ एथलेटिक्स भारत के लिए सबसे सफल खेल रहा। एथलेटिक्स में भारतीय ट्रैक और फील्ड एथलीटों ने तीन राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए।

विथ्या ने पीटी उषा के रिकॉर्ड की बराबरी की

विथ्या रामराज ने लगभग चार दशक बाद महिलाओं की 400 मीटर बाधा दौड़ में पीटी उषा के राष्ट्रीय रिकॉर्ड की बराबरी की। वह हीट में शीर्ष पर रहीं, पर फाइनल में उन्हें ब्रांज मेडल से संतोष करना पड़ा। विथ्या रामराज, रजत पदक जीतने वाली मिश्रित 4x400 मीटर रिले टीम का हिस्सा थीं। इसमें मो. अजमल, राजेश रमेश और सुभा वेंकटेशन शामिल थे।

3000 मीटर स्टीपलचेज में गोल्ड जीतने का रिकॉर्ड

पुरुषों के डेकाथलॉन में, तेजस्विन शंकर ने 7666 अंकों के साथ सिल्वर मेडल जीता और 12 साल पुराना तोड़ते हुए नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया। अविनाश साबले ने पुरुषों की 3000 मीटर स्टीपलचेज में गोल्ड मेडल जीतने का रिकॉर्ड बनाया। महिलाओं की 5000 मीटर दौड़ में पारुल चौधरी और महिलाओं की भाला फेंक में अन्नू रानी ने एथलेटिक्स में भारत के लिए महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल कीं।

ज्योति और ओजस प्रवीण के नेतृत्व में तीरंदाजी में 9 मेडल

ज्योति सुरेखा वेन्नम और ओजस प्रवीण देवताले की अगुवाई में भारतीय तीरंदाजों ने एशियाई खेल 2023 तीरंदाजी में 9 पदक जीते। जीते गए 9 मेडलों में से 5 गोल्ड मेडल शामिल हैं। तीरंदाजी में भारत का पिछला सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन इंचियोन 2014 में आया था, जहां भारत ने एक गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रांज मेडल जीता था। गौरतलब है कि एशियाई खेलों के 18 संस्करणों में भारत ने तीरंदाजी में सिर्फ 10 मेडल जीते थे।

तीरंदाजी में दो बार रिकॉर्ड तोड़ा

अदिति गोपीचंद स्वामी ने महिलाओं की कंपाउंड तीरंदाजी में दो बार एशियाई खेलों का रिकॉर्ड तोड़ा। ज्योति सुरेखा वेन्नम ने दो एशियन गेम्स रिकॉर्ड तोड़ते हुए उनकी बराबरी की। एशियन गेम्स में तैराकों ने मेडल नहीं जीता। हालांकि उन्होंने तैराकी में 6 राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए।

स्विमिंग की रिले में तैराकों ने 5 राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़े

स्विमिंग की रिले में भारतीय तैराकों ने पांच राष्ट्रीय तैराकी रिकॉर्ड तोड़े। एक रिकॉर्ड ओलंपियन श्रीहरि नटराज ने व्यक्तिगत रूप से पुरुषों की 200 मीटर फ्रीस्टाइल में तोड़ा। साइकिलिंग में, यांगलेम रोजित सिंह, डेविड बेकहम एल्काटोहचूंगो, रोनाल्डो सिंह लैटनजाम और एसो अल्बेन की भारतीय पुरुष स्प्रिंट टीम ने 44.609 का समय लेकर नेशनल रिकॉर्ड बनाया।

पुरुष-महिला भारतीय क्रिकेट पहली बार भाग ली

चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी की पुरुष युगल जोड़ी ने बैडमिंटन में भारत का पहला गोल्ड मेडल जीता। पुरुष और महिला भारतीय क्रिकेट टीमों ने पहली बार एशियन गेम्स में हिस्सा लिया और गोल्ड मेडल जीता। संजना बथुला एशियन गेम्स में मेडल जीतने वाली सबसे कम उम्र की भारतीय बनीं। उन्होंने 15 साल, 3 महीने और 11 दिन की उम्र में महिलाओं की स्पीड स्केटिंग 3000 मीटर रिले स्पर्धा में ब्रांज मेडल हासिल किया।

जग्गी शिवदासानी मेडल जीतने वाले सबसे उम्रदराज भारतीय

65 साल, 7 माह और 20 दिन की उम्र में जग्गी शिवदासानी एशियाई खेलों में मेडल जीतने वाले सबसे अधिक उम्र के भारतीय बने। वह हांगझोऊ में सिल्वर मेडल जीतने वाली पुरुष ब्रिज टीम का हिस्सा थे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.