इस हफ्ते IPO की रहेगी धूम, ये 5 कंपनियां निवेशकों से जुटाएंगी 2700 करोड़ रुपए

Upcoming IPO: शेयर बाजार में तेजी बनी है। कुछ सेशन के उतार-चढ़ाव के बाद फिर से बाजार नई ऊंचाई पर है। शेयर बाजार में अब आईपीओ की गहमागहमी बनी है।
अपकमिंग आईपीओ।
अपकमिंग आईपीओ। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। शेयर बाजार में तेजी बनी है। कुछ सेशन के उतार-चढ़ाव के बाद फिर से बाजार नई ऊंचाई पर है। शेयर बाजार में अब आईपीओ की गहमागहमी बनी है। सोमवार से शुरू हो रहे हफ्ते के दौरान कई कंपनियां आईपीओ लांच कर रही हैं। आईपीओ कैलेंडर के मुताबिक अगले पांच दिनों में शेयर बाजार में 5 नए आईपीओ दिखेंगे। अपकमिंग इन 5 आईपीओ में 4 मेनबोर्ड के हैं। एक आईपीओ एसएमई कैटेगरी का होगा। पांचों प्रस्तावित आईपीओ के माध्यम से संबंधित कंपनियां शेयर बाजार पर निवेशकों से 2700 करोड़ रुपए जुटाने की तैयारी में हैं।

कतार में इनके IPO

मेनबोर्ड पर आ रहे आईपीओ में पार्क होटल्स, जन स्मॉल फाइनेंस बैंक, कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक, राशि पेरिफेरल्स शामिल हैं। एसएमई सेगमेंट में इस सप्ताह का अकेला आईपीओ अल्पेक्स सोलर का है। मेनबोर्ड के 4 आईपीओ में से एक 5 फरवरी को खुल रहा है। शेष 3 की ओपनिंग 7 फरवरी को होगी। एसएमई सेगमेंट का अकेला आईपीओ 8 फरवरी को खुलना है।

पार्क होटल्स आईपीओ

एपीजे सुरेंद्र पार्क होटल्स यानी पार्क होटल्स के आईपीओ का साइज 920 करोड़ है। आईपीओ 5 फरवरी को खुलकर 7 फरवरी को क्लोज हो जाएगा। इसका प्राइस बैंड 147 रुपए से 155 रुपए है। इसके एक लॉट में 96 शेयर हैं। राशि पेरिफेरल्स आईपीओ के आईपीओ की ओपनिंग 7 फरवरी को होगी। 600 करोड़ रुपए के इस आईपीओ का प्राइस बैंड 295 से 311 रुपए है। एक लॉट में 48 शेयर हैं।

कैपिटल स्मॉल फाइनेंस बैंक आईपीओ

यह आईपीओ 7 फरवरी को खुलेगा। इसके लिए 9 फरवरी तक बोली लगा सकेंगे। आईपीओ का साइज 523 करोड़ रुपए है। प्राइस बैंड 445 रुपए से 468 रुपए है। एक लॉट में 32 शेयर हैं।

जन स्मॉल फाइनेंस बैंक आईपीओ

आईपीओ 7 से 9 फरवरी के बीच खुलेगा। इसका प्राइस बैंड 393 रुपए से 414 रुपए है। एक लॉट में 36 शेयर हैं।

अल्पेक्स सोलर आईपीओ

एसएमई सेगमेंट वाले अकेले आईपीओ अल्पेक्स सोलर के इश्यू की ओपनिंग 8 फरवरी को होनी है। आईपीओ की इश्यू दर 115 रुपए प्रति शेयर है। आईपीओ के तहत 64.8 लाख फ्रेश इक्विटी शेयर जारी किए जाएंगे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.