IND Vs ENG: यशस्वी जायसवाल भविष्य के सचिन-विराट? पूरी दुनिया में पहले पायदान पर पहुंचे, कोहली को छोड़ा पीछे

Yashasvi Jaiswal: इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने बेहतरीन पारी खेली। दोहरे शतक की पारी ने पूरी दुनिया को हैरान किया है।
दोहरा शतक जड़ने के बाद उत्साह दिखाते यशस्वी जायसवाल।
दोहरा शतक जड़ने के बाद उत्साह दिखाते यशस्वी जायसवाल। @ybj_19 एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल ने बेहतरीन पारी खेली। दोहरे शतक की पारी ने पूरी दुनिया को हैरान किया है। दरअसल, जायसवाल ने इंग्लैंड के खिलाफ बैक-टू-बैक दोहरा शतक जड़ा है। इसे देखकर फैंस उन्हें भविष्य का सचिन और विराट कोहली बता रहे हैं। आईसीसी द्वारा जारी सबसे अधिक रन बनाने वाली टेस्ट रैंकिंग में भी यशस्वी पहले नंबर पर पहुंच गए हैं।

कई मायनों में कोहली को छोड़ा पीछे

यशस्वी ने पहले विशाखापट्टनम टेस्ट में दोहरा शतक जड़ा था। फिर राजकोट टेस्ट में बैक-टू-बैक दोहरा शतक जड़ा। आपको जानकर हैरान होंगे कि यशस्वी ने विराट कोहली को भी कई मायनों में पीछे छोड़ दिया है। इस वजह से यशस्वी को कोहली का प्रो-वर्जन कहा जा सकता है।

विराट की शतकीय पारी होती है छोटी

वर्तमान में सचिन तेंदुलकर के बाद सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय शतक विराट कोहली के नाम दर्ज हैं। कोहली ने वनडे क्रिकेट में 50 शतक लगाए हैं। कोहली के 80 अंतराष्ट्रीय शतक होने के बाद भी यशस्वी जायसवाल के केवल 3 शतक कोहली पर भाड़ी पड़े।

शतक लगाकर विकेट गंवा देते हैं कोहली

कोहली ने जीतने शतक लगाए हैं, उनमें से अधिकांश पारियों में वह शतक लगाकर आउट हो गए। कोहली शतक लगाते हैं तो वह 120 रन तक जाते-जाते विकेट गंवा देते हैं। उन्होंने टेस्ट में 29 शतक बनाए हैं। 11 शतकीय पारियों में 120 रनों के अंदर आउट हुए हैं। वहीं, यशस्वी ने 3 शतक लगाए हैं। तीनों शतकों को लंबी पारी में बदला है।

यशस्वी की तीनों शतकीय पारी विशाल

यशस्वी ने पहला इंटरनेशनल शतक वेस्टइंडीज के विरुद्ध जड़ा था। उन्होंने 171 रनों की पारी खेली थी। दूसरा शतक इंग्लैंड के खिलाफ विशाखापट्टनम में मारा। उन्होंने इस पारी को दोहरे शतक में बदलकर 209 रनों की पारी खेली। इसके बाद तीसरा शतक राजकोट टेस्ट में बनाया इसमें भी 214 रनों की नाबाद पारी खेली। इससे जाहिर होता है कि वह शतक लगाने के बाद संयम रखकर खेलते हैं और अपनी पारी को और लंबी बनाते हैं।

रिकॉर्ड की लगाई झड़ी

यशस्वी ने राजकोट टेस्ट में दोहरा शतक लगाने के साथ कई रिकॉर्ड बनाए हैं। वह लगातार 2 मैचों में 2 दोहरा शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। ऐसा कोहली भी कर चुके हैं। यशस्वी टेस्ट मैच की एक पारी में सबसे अधिक 12 छक्के लगाने वाले बल्लेबाज बन चुके हैं। वसीम अकरम भी अधिकतम 12 छक्के लगाए हैं। जायसवाल एक टेस्ट सीरीज में सबसे अधिक छक्के लगाने वाले बल्लेबाज भी बने। उन्होंने इस मामले में रोहित शर्मा की बराबरी की। रोहित ने एक सीरीज में 22 छक्के लगाए थे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.