Android users security scam
Android users security scamSocial media

आपका पर्सनल डेटा चुरा रहे हैं ये 12 ऐप, फोन में हैं तो तुरंत डिलीट करें

एंड्रॉयड यूजर्स के लिए एक बड़ी खबर है। आपके स्मार्टफोन में कुछ ऐसे एप्स हैं जो आपका पर्सनल डेटा चुरा रहे हैं। अगर आपने इन ऐप्स को डिलीट नहीं किया तो मुश्किल में फंस सकते हैं।

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। जिस तरह से इंटरनेट ने आपकी छोटी से छोटी समस्याओं को आसान बना दिया है। वहीं इन्ही आसान समस्याओं की वजह से आप मुसीबत में भी पड़ सकते हैं। दरअसल ब्लीपिंग कंप्यूटर की एक रिपोर्ट ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि प्ले स्टोर में 12 ऐसे एप्स मौजूद है। जो आपका डाटा को चोरी कर रहे हैं। और आपकी प्राइवेसी पर सेंध लगा रहे हैं। अगर समय रहते आपने अभी इन्हें डिलीट नहीं किया तो आप बुरी मुसीबत में भी पड़ सकते हैं। आपको बता दें कि इन 12 एप्स में छह एप्स ऐसे हैं। जो प्ले स्टोर में उपलब्ध है। और बाकी एप्स थर्ड पार्टी के जरिए डाउनलोड किए जाते हैं।

क्यों खतरनाक है ये ऐप्स

ब्लीपिंग कंप्यूटर की जिस रिपोर्ट में इन 12 एप्स के बारे में बताया गया है। दरअसल उनमें मालवेयर मौजूद है। जिनकी आदत से यूजर्स का पर्सनल डाटा चोरी किया जा सकता है। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि जो 6 एप्स प्ले स्टोर में मौजूद नहीं है। उन्हें थर्ड पार्टी एप्स के जरिए डाउनलोड किया जाता है। यही वजह है कि साइबर सुरक्षा कम्पनी ने सभी 12 एप्स में मौजूद खतरे की जानकारी दी। आपको बता दें कि इन एप्स में वज्रास्पाई नाम का रिमोट एक्सेस ट्रोजन मौजूद है। जिसकी वजह से डेटा चोरी हो रहा है। वहीं इस मालवेयर के साथ अटैकर्स पैचवर्क एपीटी का उपयोग कर यूजर्स का डेटा चुराने में लगे हुए है।

पर्सनल डेटा में क्या चोरी हो सकता है

अक्सर देखा गया है कि जब भी लोग प्ले स्टोर से कोई भी ऐप डाउनलोड करते हैं तो उसे फटाफट परमिशन देते चले जाते हैं। अगर आप भी ऐसा कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। ऐसे में आपका पर्सनल डाटा चोरी होने में 1 मिनट भी नहीं लगेगा। आपको बता दें कि मालवेयर वाले एप्स में से जिन 11 एप्स को मेसेजिंग एप्स के तौर पर एडवर्टाइज किया गया था। वहीं एक बचा हुआ अन्य एप बड़ी ही चालाकी से न्यूज पोर्टल के तौर पर डिवाइसेज में जगह बना रहा था। जब भी कोई यूजर्स एप को डाउनलोड करता तो ये उसके कॉन्टैक्ट, मैसेज, लोकेशन , डिवाइस, फाइल्स पर सेंध लगाना शुरू कर देते थे। हालांकि यह मालवेयर अभी पाकिस्तान के यूजर्स को अपना टारगेट बना रहे थे।

ये है वो ऐप्स

हम आपको उन 12 ऐप्स के बारे में बताने जा रहे है। जो आपकी प्राइवेसी को चुराने में लगे हुए है। आप इन्हे फौरन डिलीट कर दें।

* Wave chat

* Rafaqat

* Yahoo talk

* Meet me

* Tik talk

* Quick chat

* Privet talk

* Nidus

* Let's chat

* Glow chat

* Hello chat

* Chit chat

Related Stories

No stories found.