शुभेंदु अधिकारी ने दिया अल्टीमेटम, 24 घंटे में शांति बहाल नहीं हुई तो संदेशखाली में जबरदस्ती घुसेंगे

Bengal News: शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि किसी भी कीमत पर हम पुलिस को स्थानीय लोगों के उस लोकतांत्रिक और सहज आंदोलन को दबाने की अनुमति नहीं देंगे।
Shubhendu Adhikari
Shubhendu Adhikariraftaar.in

कोलकाता, (हि.स)। पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने शनिवार को अल्टीमेटम देते हुए कहा कि राज्यपाल सी.वी. आनंद बोस अगले 24 घंटों में हिंसाग्रस्त संदेशखाली में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए ठोस कदम उठायें अन्यथा वह धारा 144 का उल्लंघन करेंगे और संदेशखाली में भाजपा प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे। विधानसभा से शनिवार को वॉकआउट करने के बाद अधिकारी के नेतृत्व में भाजपा विधायक सीधे राजभवन पहुंचे और राज्यपाल के साथ बैठक की।

स्थानीय लोगों के सहज आंदोलन को दबाने की कोशिश कर रही है

नेता प्रतिपक्ष ने बैठक के बाद कहा कि राज्य प्रशासन और पुलिस वहां के स्थानीय तृणमूल कांग्रेस नेताओं के खिलाफ शिकायतों से पैदा हुए स्थानीय लोगों के सहज आंदोलन को दबाने की कोशिश कर रही है।

वहां से संदेशखाली जाएंगे, भले ही हमें वहां धारा 144 का उल्लंघन करना पड़े

किसी भी कीमत पर हम पुलिस को स्थानीय लोगों के उस लोकतांत्रिक और सहज आंदोलन को दबाने की अनुमति नहीं देंगे। हमने राज्यपाल से 24 घंटे के भीतर संदेशखाली में शांति और सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने का अनुरोध किया है। अन्यथा, भाजपा विधायक सोमवार को विधानसभा परिसर में इकट्ठा होंगे और वहां से संदेशखाली जाएंगे, भले ही हमें वहां धारा 144 का उल्लंघन करना पड़े।

अगर पुलिस चाहे तो वह हमें गिरफ्तार कर सकती है

उन्होंने राज्य प्रशासन को सोमवार को संदेशखाली पहुंचने से रोकने की चुनौती भी दी। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस चाहे तो वह हमें गिरफ्तार कर सकती है। लेकिन हम सोमवार को संदेशखाली पहुंचने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

संदेशखाली के दो ब्लॉकों की 16 पंचायतों में धारा 144 लागू कर दी गई है

जब वह मीडिया से बात कर रहे थे, तब अन्य भाजपा विधायकों ने संदेशखाली में धारा 144 लगाने के लिए गजट अधिसूचना की प्रतियां जलानी शुरू कर दी। संदेशखाली के दो ब्लॉकों की 16 पंचायतों में धारा 144 लागू कर दी गई है। सामान्य स्थिति बहाल होने तक उस क्षेत्र में इंटरनेट के इस्तेमाल पर भी अनिश्चित काल के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। रैपिड एक्शन फोर्स और लड़ाकू बल के कर्मियों सहित एक विशाल पुलिस दल इलाके में गश्त कर रहा है। नवीनतम रिपोर्ट के अनुसार, संदेशखाली की सड़कें सुनसान नजर आ रही हैं क्योंकि सभी दुकानें बंद हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.