Bengaluru Cafe Blast: रामेश्वरम कैफे में बम रखने वाला शख्स पकड़ा गया, मास्टरमाइंड को भी NIA ने धर लिया

Kolkata News: NIA ने आज रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट के मुख्य आरोपी समेत 2 लोगों को कोलकाता से गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपियों वहां नकली पहचान बनाकर रह रहे थे।
Bengaluru Rameswaram Cafe Blast
Bengaluru Rameswaram Cafe BlastRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। बेंगलुरु के रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट में NIA ने बड़ी कार्यवाई की है। NIA ने मास्टरमाइंड समेत 2 आरोपियों को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता से गिरफ्तार किया है। इस मिशन में केंद्रीय खूफिया ऐजेंसी के अलावा 4 राज्यों की पुलिस ने मिलकर आरोपियों को पकड़ने के लिए स्पेशल जांच की।

सभी आरोपी गिरफ्तार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, NIA ने बेंगलुरु कैफे में IED रखने वाले मुख्य आरोपी मुसाविर हुसैन शाजिब और विस्फोट की योजना बनाने और उसे अंजाम देने के मास्टरमाइंड अब्दुल मथीन ताहा को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों आरोपी कर्नाटक के शिवमोग्गा जिले के तीर्थहल्ली इलाके के रहने वाले हैं।

कई राज्यों की पुलिस के साथ मिलकर पकड़ा आरोपियों को

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि NIA ने कोलकाता से फरार आरोपियों का सफलतापूर्वक पता लगा लिया है। जहां वे झूठी पहचान बनाकर छिपे हुए थे। NIA ने आरोपियों को ढूंढने के लिए पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, कर्नाटक और केरल पुलिस के साथ मिलकर काम किया।

रामेश्वरम कैफे ब्लास्ट में 9 लोग घायल

1 मार्च को बैंगलुरु के व्हाइटफील्ड के रामेश्वरम कैफे में ब्लास्ट हुआ था। जिसमें 9 लोग घायल हो गए थे। विस्फोट के बाद, कर्नाटक पुलिस ने CCTV फुटेज में एक संदिग्ध की पहचान की। जिसने विस्फोट को अंजाम देने के लिए टाइमर के साथ एक IED डिवाइस का इस्तेमाल किया था। बैंगलुरु ब्लास्ट के कुछ दिनों बाद NIA ने टोपी, काली पैंट और काले जूते पहने हमलावर की तस्वीर भी जारी की थी। NIA ने हमलावर के बारे में जानकारी देने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम देने की भी घोषणा की थी।

NIA ने आरोपियों की कुंडली खंगाली

इसने मामले में NIA ने अपनी जांच को मजबूत किया और आरोपियों के सामाजिक दायरे और पिछले संबंधों की जांच करके इसका दायरा बढ़ाया। NIA ने मीडियाकर्मियों से कहा कि मामले से संबंधित महत्वपूर्ण सबूत और जानकारी इकट्ठा करने के लिए संदिग्धों के जीवन के विभिन्न क्षेत्रों के व्यक्तियों को पूछताछ के लिए बुलाया जा रहा है।

NIA ने सभी सहयोगियों की सरहना की

NIA ने आरोपियों को खोजने के लिए कर्नाटक, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश में 18 स्थानों पर तलाशी भी ली थी। NIA ने आज एक बयान में कहा- "NIA द्वारा सफलतापूर्वक पूरा किया गया यह प्रयास एनआईए, केंद्रीय खुफिया एजेंसियों, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, कर्नाटक और केरल पुलिस की राज्य पुलिस एजेंसियों के बीच सहयोग की सरहाना की।"

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.