UP News: पुलिस भर्ती परीक्षा मामले में अखिलेश का BJP पर बड़ा तंज, बोले- फीस का पैसा भी अपना फंड न बना ले भाजपा

UP Police Recruitment Exam: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को यूपी पुलिस आरक्षी परीक्षा के निरस्त मामले में पुलिस अधिकारी और अपराधी के मिले होने का आरोप लगाया।
Akhilesh Yadav
Akhilesh Yadavraftaar.in

लखनऊ, (हि.स.)। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शनिवार को यूपी पुलिस आरक्षी परीक्षा के निरस्त मामले में पुलिस अधिकारी और अपराधी के मिले होने का आरोप लगाया। अखिलेश यादव ने कहा कि पहले तो भाजपा वाले कह रहे थे कि पेपर लीक ही नहीं हुआ। अब कैसे मान लिया। इसका मतलब है कि अधिकारी और अपराधी मिले हुए थे।

फीस के नाम पर जो पैसा लिया गया है, कहीं वो भाजपा का चुनावी फंड न बन जाए

अखिलेश ने कहा कि बेरोज़गार युवक-युवतियों से खेल में नौकरियाँ निकालना, अरबों रुपये की फीस ले लेना, पेपर लीक होने देना, फिर निरस्त करने का नाटक करना। युवाओं ने ठान लिया है कि न बहकावे में आएंगे न किसी भाजपाई झांसे में। युवा अगले हर चुनाव में भाजपा को बुरी तरह हराएंगे और हमेशा के लिए हटाएंगे। युवा कह रहे हैं कि फीस के नाम पर जो पैसा लिया गया है, कहीं वो भाजपा का चुनावी फंड न बन जाए।

यह चुनाव बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सपनों को बचाने का है

उन्होंने एक प्रश्न पर कहा कि यह चुनाव बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के सपनों को बचाने का है। यह चुनाव आजादी बचाने का, संविधान बचाने का है। नौजवान भारत देश को और उत्तर प्रदेश को बनाना चाहता है। अगर वो अपने सपने पूरा करना चाहता है तो उसको नौकरी और रोजगार समय पर मिले।

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा को रद्द कर पुनः कराने का फैसला लिया है

वहीं उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा को लेकर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा फैसला ले लिया है। मुख्यमंत्री योगी ने आज शनिवार को उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा को रद्द कर पुनः कराने का फैसला लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि छह माह के भीतर ही पूर्ण शुचिता के साथ परीक्षा आयोजित की जाएंगी। मुख्यमंत्री का कहना है कि युवाओं की मेहनत और परीक्षा की शुचिता से खिलवाड़ करने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ सीएम योगी ने कहा, परीक्षा की गोपनीयता भंग करने वाले एसटीएफ की रडार में हैं। अब तक कई बड़ी गिरफ्तारियां हो चुकी हैं।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.