गाजियाबाद लोकसभा सीट के अस्तित्व में आने के बाद BJP ने लगाई हैट्रिक, हर चुनाव में बढ़ी मतों की संख्या

Loksabha Election 2024: गाजियाबाद के गठन के बाद से ही यह भाजपा का गढ़ रही है।
Ghaziabad Loksabha Seat
Ghaziabad Loksabha Seatraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। गाजियाबाद के गठन के बाद से ही यह भाजपा का गढ़ रही है। जहां भाजपा अपनी इस सीट को बचाये रखने के लिए हर तरह की राजनीतिक रणनीति के तहत काम कर रही है तो वहीं विपक्ष भी यहां अपनी पकड़ बनाने के लिए हर तरह से पूरी मेहनत कर रही है और पूरी रणनीति के तहत काम कर रही है। गाजियाबाद लोकसभा सीट वर्ष 2008 में बनी थी। इससे पहले यह हापुड़ लोकसभा सीट का हिस्सा थी। गाजियाबाद लोकसभा क्षेत्र के अंतगर्त लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद और धौलाना विधान सभा सीट आती है।

गाजियाबाद लोकसभा सीट बनने के बाद भाजपा ने लगाईं यहाँ से हैट्रिक

गाजियाबाद लोकसभा सीट वर्ष 2008 में बनी थी। इससे पहले यह हापुड़ लोकसभा सीट के अंतगर्त आती थी। गाजियाबाद लोकसभा सीट लोनी, मुरादनगर, साहिबाबाद, गाजियाबाद और धौलाना विधान सभा सीट को मिलाकर बनी है। गाजियाबाद लोकसभा सीट बनने के बाद यहां पहला लोकसभा चुनाव वर्ष 2009 में हुआ था। उस समय यहां से भाजपा प्रत्याशी राजनाथ सिंह थे, जिन्होंने वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में भारी मतों से जीत हासिल की थी। इसके बाद वर्ष 2014 और 2019 में भाजपा ने इस सीट से अपना प्रत्याशी जनरल वीके सिंह को बनाया था। जनरल वीके सिंह ने भी वर्ष वर्ष 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को गाजियाबाद लोकसभा सीट से जीत दर्ज करवाई थी।

वर्ष 2009 में यहां की जनता ने राजनाथ सिंह को भारी मतों से जीत दिलवाई थी

गाजियाबाद लोकसभा सीट के गठन के बाद वर्ष 2009 में यहां की जनता ने राजनाथ सिंह को भारी मतों से जीत दिलवाई थी। राजनाथ सिंह भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं और वर्तमान में देश के रक्षा मंत्री हैं। उन्होंने वर्ष 2009 में गाजियाबाद लोकसभा सीट से कांग्रेस के सुरेंद्र गोयल 90 हजार 681 मतों से हराया था। जहां इस चुनाव में राजनाथ सिंह को 3 लाख 59 हजार 637 मत मिले, वहीं उनके प्रतिद्धंदी कांग्रेस के सुरेंद्र गोयल को 2 लाख 68 हजार 956 मत मिले थे।

जनरल वीके सिंह ने लगातार दो बार गाजियाबाद लोकसभा सीट में जीत दर्ज कराई

जनरल वीके सिंह ने लोकसभा चुनाव 2014 में भाजपा को गाजियाबाद लोकसभा सीट से बहुत बड़ी जीत दिलवाई थी। जनरल वीके सिंह को इस चुनाव में 7 लाख 58 हजार 482 वोट मिले थे। वहीं उनके प्रतिद्धंदी रहे फिल्म अभिनेता राज बब्बर को केवल 1 लाख 91 हजार 222 वोट मिले थे।

जनरल वीके सिंह के अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए भाजपा ने उन्हें वर्ष 2019 में भी लोकसभा चुनाव में गाजियाबाद लोकसभा सीट से लड़ने का मौका दिया। इस बार भी जनरल वीके सिंह ने पहले से अच्छा प्रदर्शन करते हुए 9 लाख 44 हजार 503 मत प्राप्त किये। वहीं उनके प्रतिद्धंदी रहे सपा के सुरेश बंसल को 4 लाख 43 हजार 3 मत से ही संतुष्ट होना पड़ा था। कांग्रेस इस बार तीसरे नंबर पर रही थी।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.