Gangster रवि काना गर्लफ्रेंड के साथ थाइलैंड में गिरफ्तार, दिल्ली में काजल के नाम 80 करोड़ का बंगला सीज

कभी कबाड़ का काम करने वाले भगोड़े गैंगस्टर रवि काना थाईलैंड में पकड़ा गया है। पुलिस अब दोनों को नोएडा लाने की तैयारी कर रही है। गर्लफ्रेंड काजल झा के नाम पर दिल्ली में 80 करोड़ का बंगला हुआ सीज।
Gangster Ravi Kana arrested with girlfriend Kajal in Thailand
Gangster Ravi Kana arrested with girlfriend Kajal in Thailand Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। नोएडा पुलिस द्वारा कई मामलों में वांछित पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भगोड़े गैंगस्टर रवि नागर उर्फ रवि काना को थाईलैंड में गिरफ्तार कर लिया गया है। रवि काना पर नोएडा पुलिस ने बीते जनवरी में बड़ी कार्रवाई की थी। साथ ही रवि के कारोबार में उसका साथ देने वाली काजल झा की दिल्ली स्थित संपत्ति सीज कर दी गई थी। दिल्ली में स्थित न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी की कोठी की कीमत 80 करोड़ के करीब थी। काजल झा रवि काना की स्क्रैप कंपनी की डायरेक्टर भी रही है। काजल झा को भी थाईलैंड के अधिकारियों ने पकड़ लिया है।

कौन है रवि काना और कितने मामले हैं दर्ज

रवि काना स्क्रैप यानि कबाड़ व्यापारी रहा है। उसके खिलाफ इस साल 2 जनवरी को ग्रेटर नोएडा के बीटा 2 पुलिस स्टेशन में गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था। अधिकारियों के अनुसार, 42 वर्षीय गैंगस्टर रवि काना के खिलाफ 28 दिसंबर 2023 को नोएडा सेक्टर 39 पुलिस स्टेशन में गैंगरेप का केस भी दर्ज हुआ था।

रवि काना के खिलाफ जारी था रेड कॉर्नर नोटिस

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार गौतमबुद्ध नगर पुलिस इंटरपोल और विदेश में स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में है। उसके रवि काना के देश से भागने के संदेह में इस साल जनवरी में उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर और रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया था।

कई सहयोगी गिरफ्तार, करोड़ों की संपत्ति सील

गैंगस्टर एक्ट का मामला दर्ज होने के बाद से नोएडा पुलिस ने रवि काना के गिरोह के लगभग एक दर्जन सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इसी के साथ फैक्ट्री, ऑफिस और वाहनों सहित लगभग 200 करोड़ रुपये की संपत्ति को सील कर दिया है। 

पुलिस के अनुसार, नागर स्क्रैप का कारोबारी रहा है। उसने कॉन्ट्रैक्ट लेने के लिए आपराधिक रास्ता अपनाया। यहां तक कि लूट की घटनाओं में भी शामिल रहा। जिसके बाद वह करोड़ों की संपत्ति बना पाया।

कहां कितनी हुई कार्रवाई

बीती जनवरी में बीटा टू और इकोटेक 1 पुलिस ने रवि के ठिकानों पर दबिश दी थी। इसके बाद ईकोटेक 1 क्षेत्र में करीब 5 करोड़ के स्क्रैप और 30 करोड़ की जमीन सीज कर दी थी। वहीं बिसरख के चेरी काउंटी क्षेत्र में 5000 गज जमीन भी सीज की गई थी। इसके अलावा 20 खाली ट्रक, दो स्क्रैप से लदे ट्रक जिनकी कीमत करीब 5 करोड़ थी, उस पर भी कार्रवाई की गई थी। वहीं 200 टन स्क्रैप और 10 लाख का सरिया भी पकड़ा गया था, इसी के साथ 60 बड़े वाहन भी सील कर दिए थे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.