Himachal News: राज्यपाल से मिले जयराम ठाकुर, कर दी सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार के बहुमत साबित करने की मांग

Himachal News: हिमाचल प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री जय राम ठाकुर ने अपने विधायकों के एक डेलीगेशन के साथ आज सुबह माननीय राज्यपाल श्री शिव प्रताप शुक्ल से भेंट की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा।
Shiv Pratap Shukla and Jairam Thakur
Shiv Pratap Shukla and Jairam Thakurraftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। हिमाचल प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष श्री जय राम ठाकुर ने अपने विधायकों के एक डेलीगेशन के साथ आज सुबह माननीय राज्यपाल श्री शिव प्रताप शुक्ल से भेंट की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा। पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्यपाल से भेंट करने के बाद कहा कि सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार के पास बहुमत नहीं है। उन्होंने राज्यपाल से कहा कि सुक्खू सरकार विधानसभा में बहुमत साबित करे।

ऐसी परिस्थिति उत्पन्न न हो इसके लिए आप हस्ताक्षेप करें।

वहीं बीजेपी को यह भी डर सता रहा है कि विधानसभा सत्र से उनके सभी विधायकों को निलंबित किया जा सकता है। भाजपा को क्रॉस वोटिंग करने वाले कांग्रेस के 6 और 3 निर्दलीय विधायकों को भी सुक्खू सरकार द्वारा निलंबित कर बजट पारित करने का डर है। जिसके लिए पूर्व मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्यपाल से आग्रह किया है कि ऐसी परिस्थिति उत्पन्न न हो इसके लिए आप हस्ताक्षेप करें।

भाजपा की रणनीति के आगे हिमाचल कांग्रेस को हार माननी पड़ी

हिमाचल प्रदेश में राज्यसभा सीट पर बीते मंगलवार(27 फरवरी) को चुनाव हुआ था, जिसके परिणाम आने पर सब हैरान रह गए थे। चुनाव में कांटे का मुकाबला रहा, भाजपा प्रत्याशी हर्ष महाजन और कांग्रेस उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी को बराबर वोट मिले थे। जो की इस चुनाव में शक्तिशाली दिख रहे हिमाचल कांग्रेस के लिए बड़ा झटका था। क्यूंकि कांग्रेस के 6 विधायकों ने इस राज्यसभा चुनाव मे क्रॉस वोटिंग की। वहीं बोजेपी ने इस चुनाव को जीतने के लिए बड़ी रणनीति के तहत बड़ी मेहनत की थी, जिसमे वह सफल रही। विधानसभा में भाजपा के पास 25 विद्यायक थे, लेकिन भाजपा की रणनीति के आगे हिमाचल कांग्रेस को हार माननी पड़ी। क्रॉस वोटिंग के कारण भाजपा उम्मीदवार के वोटों की संख्या बढ़कर 34 हो गई। जिससे दोनों दलों का 34-34 का आंकड़ा बन गया, जिसके बाद पर्ची डाली गयी जिसमे भाजपा के उम्मीदवार हर्ष वर्धन की जीत हुई।

राज्यसभा चुनाव में हिमाचल में क्या हुआ

राज्यसभा चुनाव में हिमाचल में 68 विधायकों ने मतदान किया था। कांग्रेस के 40 विधायकों ने मतदान किया था, जिसमे से 6 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की। जिसके बाद हिमाचल कांग्रेस के पास 34 विधायक रह गए थे। वहीं भाजपा के पास निर्दलीय विधायकों को मिलाकर 28 विधायक थे। कांग्रेस के 6 विधायकों के क्रॉस वोटिंग करने के बाद भाजपा के वोटों की संख्या भी 34 हो गयी थी। जिसके बाद पर्ची डाली गई, जिसमे भाजपा के उम्मीदवार हर्ष वर्धन की जीत हुई।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.