मेडिकल बोर्ड ने जारी किया केजरीवाल का हेल्थ अपडेट, कहा- स्वस्थ हैं, इंसुलिन लेते रहें

Arvind Kejriwal: कोर्ट के आदेश के अनुसार पांच सदस्यीय मेडिकल बोर्ड बनाया गया।
medical board advises kejriwal to keep taking insulin
medical board advises kejriwal to keep taking insulin

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की दिल्ली के एक कोर्ट के आदेश के बाद मेडिकल जांच की गई है। कोर्ट के आदेश के अनुसार पांच सदस्यीय मेडिकल बोर्ड बनाया गया। जिन्होंने तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को दो यूनिट इंसुलिन लेते रहने की सलाह दी है।

एक हफ्ते के बाद उनके स्वास्थ्य की दोबारा से समीक्षा की जाएगी

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अरविंद केजरीवाल स्वस्थ हैं। मेडिकल बोर्ड ने उनकी पहले से चल रही दवाओं में कोई फेरबदल नहीं किया है। केजरीवाल को चल रही दवाओं को समय से लेने के लिए कहा गया है। मेडिकल बोर्ड में दिल्ली एम्स के पांच डॉक्टर शामिल थे। जिन्होंने आधे घंटे तक वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अरविन्द केजरीवाल के स्वास्थ्य की समीक्षा की। इसमें मेडिकल टीम के साथ साथ तिहाड़ जेल के दो डॉक्टर भी शामिल थे। जानकारी के अनुसार एक हफ्ते के बाद उनके स्वास्थ्य की दोबारा से समीक्षा की जाएगी।

तिहाड़ जेल के अघिकारियों को मेडिकल बोर्ड बनाने के निर्देश दिए थे

दरअसल अरविंद केजरीवाल की पिछले हफ्ते दिल्ली की एक कोर्ट ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये अपने डॉक्टर से दैनिक परामर्श लेने वाली याचिका को खारिज कर दिया था। लेकिन कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए तिहाड़ जेल के अघिकारियों को मेडिकल बोर्ड बनाने के निर्देश दिए थे। जिसमे एम्स के डॉक्टरों को भी शामिल करने के लिए कहा था। जो यह तय कर सके कि दिल्ली के सीएम को इंसुलिन की जरुरत है कि नहीं। बताना चाहेंगे कि केजरीवाल टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित हैं।

ताकि सीएम मेडिकल बेल के आधार पर जेल से बाहर आ सके

बताना चाहेंगे कि कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल को घर का खाना खाने की अनुमति दे रखी थी। साथ ही कोर्ट ने डाइट चार्ट का पालन करने के लिए कहा था। लेकिन केंद्रीय जांच एजेंसी(ईडी) ने दिल्ली के सीएम पर आरोप लगाया था कि वह अपनी डाइट में आलू पुरी, मिठाई, आम आदि मीठी चीजों का सेवन कर अपना शुगर लेवल बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। ताकि सीएम मेडिकल बेल के आधार पर जेल से बाहर आ सके।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.