Corona के बढ़ते मामले को लेकर सरकार सतर्क, राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ की उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक

New Delhi: स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने बुधवार को स्वास्थ्य सुविधाओं और चिकित्सा संबंधी सेवाओं की तैयारियों पर राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की।
Mansukh Mandaviya
Mansukh Mandaviyaraftaar.in

नई दिल्ली, (हि.स.)। कोरोना और इसके नए वेरिएंट जेएन- 1 के बढ़ते खतरे को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बुधवार को स्वास्थ्य सुविधाओं और चिकित्सा संबंधी सेवाओं की तैयारियों पर राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के जेएन-1 वेरिएंट को वेरियंट ऑफ इंटरेस्ट माना है, यानी यह वायरस तेजी से फैल सकता है।

एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने का समय है

इस उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि यह एक-दूसरे के साथ मिलकर काम करने का समय है। हमें घबराने नहीं, सतर्क रहने की जरूरत है। अस्पताल की तैयारी, निगरानी बढ़ाने और लोगों के साथ प्रभावी संचार के मॉक ड्रिल के साथ तैयार रहना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि हर 3 महीने में एक बार सभी अस्पतालों में मॉक ड्रिल होना चाहिए। इसके लिए राज्यों को केन्द्र सरकार की ओर से सभी प्रकार का समर्थन दिया जाएगा।

स्वास्थ्य का क्षेत्र किसी राजनीति का क्षेत्र नहीं: मनसुख मांडविया

उन्होंने अधिकारियों को तैयारियों में किसी भी तरह की ढिलाई नहीं करने के निर्देश दिए। उन्होंने राज्यों को कहा कि स्वास्थ्य का क्षेत्र किसी राजनीति का क्षेत्र नहीं है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय हर सहायता के लिए उपलब्ध है।

नए वेरियंट जेएन-1 के एक मामले की केरल में पुष्टि की गई है

उल्लेखनीय है कि कोरोना के नए वेरियंट जेएन-1 के एक मामले की केरल में पुष्टि की गई है। दुनिया के कई देशों में कोरोना के नए मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हम सबका भी कर्त्तव्य होता है कि हम स्वास्थ्य मंत्रालय के सारे निर्देश का पालन करें। हम सभी कोरोना के कारण बहुत बड़ी त्रासदी देख चुके हैं। अगर इसके बाद भी हम किसी तरह की लापरवाही करेंगे तो यह हमारे साथ साथ हमारे प्रियजनो के लिए भी हानिकारक होगा। सरकार तो हर तरह की सतर्कता बरत रही है। हमे भी इसमें अपना पूरा सहयोग करना चाहिए। तभी इससे बचा जायेगा।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.