Farmer Protest: किसान आंदोलन ने रोकी राजधानी की रफ्तार, दिल्ली पुलिस ने बताया किन रास्तों से बचना है

New Delhi: दिल्ली में किसानों का कूच आने के लिए तैयार हो गया है। जिस कारण दिल्ली के सभी बॉर्डरों पर सुरक्षा-व्यवस्था सख्त कर दी गई है। जिसके कारण सड़कों पर लंबा जाम लगा है।
Farmer Protest
Farmer Protest Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। किसानों का कूच राजधानी दिल्ली की ओर बढ़ गया है। दिल्ली पुलिस ने दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर और चिल्ला बॉर्डर पर पुलिस ने नाकाबंदी कर दी है। इन जगहों पर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए हैं। किसान आंदोलन को रोकने के लिए दिल्ली के सभी बॉर्डरों को किले में तब्दील कर दिया है। इससे लोगों को आवाजाही करने में बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सड़कों पर भारी जाम में घंटों तक गाड़ियां फंसी हुई हैं।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

रविवार को दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने एक्स पर महत्वपूर्ण एडवाइजरी जारी की थी। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने पोस्ट में लिखा-

13.02.2024 से दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर प्रस्तावित किसानों के विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर यातायात प्रभावित रहेगा।

कमर्शल वाहनों के लिए 12.02.2024 से यातायात प्रतिबंध/डायवर्जन लगाया जाएगा।

गाजीपुर बॉर्डर

दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर को पुरी तरह से सील कर दिया गया है। इसी कारण आनंद विहार ISBT, कौशांबी, वैशाली और महारजपुर में लोगों की हालत ट्रैफिक से खराब हो रही है। लंब जाम में गाड़ियों के फंसने से पैदल चलने वाले यात्रियों को भी परेशानियों से जूझना पड़ रहा है। दिल्ली के आनंद विहार ISBT और यूपी को कौशांबी बस स्टैंड के पास आज सुबह से ही पुलिस हाई अलर्ट मोड में है। सिर्फ एक ही सड़क का प्रयोग करने की अनुमति दी गई है। दूसरी सड़क पर पुलिस ने बैरिकेडिंग कर दी है।

चिल्ला बॉर्डर

दिल्ली के मयूर विहार और यूपी के गौतम बुद्ध नगर, नोएडा के चिल्ला बॉर्डर पर सबसे पहले किसानों ने दस्तक दी थी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश से किसानों ने संसद भवन में प्रदर्शन करने का ऐलान किया था। जिसके बाद से दिल्ली और यूपी पुलिस ऐक्शन में आई थी। पुलिस-प्रशासन ने तुरंत चिल्ली बॉर्डर को सील कर दिया था। चिल्ली बॉर्डर पर अभी भी पाबंदी बरकरार है, जिसकी वजह से लोगों की रोजमर्रा की जिंदगी पर बुरा असर पड़ रहा है। आज सुबह दिल्ली के DND फ्लाईओवर, आश्रम, कालिंदी कुंज में ट्रैफिक जाम से हालात बेहद खराब नजर आए।

टिकरी बॉर्डर

दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर भी पुलिस ने नाकाबंदी कर दी है। हरियाणा और पश्चिमी दिल्ली के इस इलाके में 2021 में हुए किसान आंदोलन ने सभी को झकजोर कर रख दिया था। इस बार भी उन हालातों से बचने के लिए पुलिस ने तैयारियां शुरु कर दी हैं। इसी कारण नजफगढ़, झरौदा, KMP एक्सप्रैस वे पर लंबी जाम लगा हुआ है।

सिंघु बॉर्डर

सिंघु बॉर्डर भी 2021 में किसान आंदोलन की वजह से चर्चाओं में रहा। सिंघु बॉर्डर हरियाणा और दिल्ली के बीच स्थित है। दिल्ली के आउटर एरिया बवाना और संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में भी लंबे जाम में गाड़िया फंसी हुई हैं।

इन इलाकों में जाने से बरतें सावधानी

दिल्ली पुलिस की एडवाइजरी के अनुसार, पुलिस ने खासकर गाजीपुर बार्डर, सिंघु बॉर्डर, चिल्ला बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर के इलाकों में स्कूटी, बाइक और कार न ले जाने की सलाह दी है। इसके अतिरिक्त लोगों को ट्रैफिक जाम से बचने के लिए दिल्ली मैट्रों का उपयोग करने की सलाह दी है।

चीफ जस्टिस चंद्रचूड़ ने दिया संदेश

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस चंद्रचूड़ ने आज कहा कि "किसान आंदोलन के चलते राजधानी दिल्ली में लोगों को अगर ट्रैफिक जाम से समस्या होती है तो हमें बताए।" सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी में दिल्ली में किसान आंदोलन के चलते बढ़ते ट्रैफिक जाम की समस्या को उल्लेख किया गया है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.