राज्यसभा में उठा DK Suresh के द. भारत बयान का मुद्दा, खड़गे बोले- ऐसा बयान स्वीकार्य नहीं; हमने देश लिए जान दी

DK Suresh Comment: कर्नाटक से सांसद डीके सुरेश के कथित दक्षिण भारत के लिए अलग देश की मांग से जुड़े एक बयान का मुद्दा आज राज्यसभा में पीयूष गोयल ने उठाया और मल्लिकार्जुन खड़गे से इस बयान पर माफी...
PM Modi, Mallikarjun Kharge
PM Modi, Mallikarjun KhargeRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। राज्यसभा में आज शुक्रवार को कर्नाटक से सांसद डीके सुरेश के कथित दक्षिण भारत के लिए अलग देश की मांग से जुड़े एक बयान का मुद्दा उठाया गया। उनके इस बयान के बाद बीजेपी कांग्रेस पर हमलावर नजार आई। इस मुद्दे को राज्यसभा में नेता सदन पीयूष गोयल ने उठाया और नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से इस बयान पर माफी मांगने को कहा।

भाजपा ने सदन में उठाया मुद्दा

सभापति की अनुमति से पीयूष गोयल ने सदन की कार्यवाही प्रारंभ होने पर इस मुद्दे को उठाया। घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री के भाई हैं और दूसरे सदन के सांसद हैं। कांग्रेस की सोच विभाजनकारी है और उसकी कार्यपद्धति इसका उदाहरण रही है। उन्होंने कहा कि सदन में चुने जाने पर हम संविधान और देश की अखंडता बनाए रखने की शपथ लेते हैं। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि वो दूसरे सदन के नेता हैं और उन्होंने स्वयं ऐसा कहा है कि उनका बयान यह नहीं था।

कांग्रेस नेताओं ने इस देश के लिए अपनी जान दी है- खड़गे

सभापति जगदीप धनखड़ ने मामले को गंभीर बताया और कहा कि सदन को एकजुट होकर इस तरह के बयान की निंदा करनी चाहिए। खड़गे ने भी स्थिति को स्पष्ट करते हुए कहा कि इस तरह का बयान किसी भी पार्टी के नेता का क्यों न हो, हम उसकी निंदा करते हैं। खड़गे ने आगे कहा कि अगर कोई भी देश को तोड़ने की बात करे तो हम उसका समर्थन नही करतें चाहे वो किसी भी पार्टी का हो। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक देश एक है। कांग्रेस नेताओं ने इस देश के लिए अपनी जान दी है।

क्या है पूरा मामला?

आपको बता दें संसद में कल 1 फरवरी को केंद्र सरकार ने अंतरिम बजट पेश किया था। अंतरिम बजट सदन में पोश होने के बाद कांग्रेस सांसद डीके सुरेश ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी। इस पर रिएक्शन देते हुए कांग्रेस सांसद डीके सुरेश ने कहा कि दक्षिण भारत के साथ अन्याय हो रहा है। उन्होंने कहा कि जो पैसा दक्षिण तक पहुंचना चाहिए था, उसे डायवर्ट कर उत्तर भारत में बांटा जा रहा है। अगर इस अन्याय को दूर नहीं किया गया तो दक्षिणी राज्य एक अलग देश बनाने की मांग करने के लिए मजबूर होंगे।

कौन हैं डी के सुरेश?

गौरतलब हो कि डीके सुरेश कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के छोटे भाई हैं। और वह कर्नाटक की बेंगलुरु ग्रामीण सीट से सांसद भी है। डीके सुरेश का जन्म 1 अप्रैल 1966 को कर्नाटक के रामनगर जिले के कनकपुरा में हुआ था। उनकी सियासी पारी साल 2103 में शुरू हुई थी। 21 मई 2013 को हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने डीके सुरेश को उम्मीदवार बनाया था। इस उपचुनाव में जीतकर डीके सुरेश पहली बार लोकसभा पहुंचे थे।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.