Lok Sabha Election: BSP सुप्रीमो मायावती ने अपने जन्मदिन पर किया बड़ा ऐलान- 'गठबंधन नहीं, अकेले लड़ेंगी चुनाव'

New Delhi: यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और BSP सुप्रीमो मायावती आज 68वां जन्मदिन है। आज उन्होंने इंडिया गठबंधन को लेकर कई बड़े फैसलों की घोषणा की है। साथ ही उम्होंने पुस्तक का विमोचन किया हैं।
BSP chief Mayawati Birthday
BSP chief Mayawati Birthday Social media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती का आज जन्मदिन है। उनका जन्मदिन हमेशा से ही खास रहा है। अपने जन्मदिन पर वह कई बड़े ऐलान करती रही हैं। ऐसे में आज पार्टी के कार्यकर्ता उनके जन्मदिन को जनकल्याणकारी दिवस के रूप में भी मना रहे हैं। मायावती के जन्मदिन पर सुबह से ही लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय पर लोगों का जमावड़ा लगा हुआ है। वहीं मायावती को सुबह से ही जन्मदिन की बधाइयां मिल रही है। कार्यालय के बाहर कार्यकर्ताओं ने अलग-अलग होडिंग और बैनर लगाकर उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं देने में लगे हुए है। इसके अलावा पार्टी कार्यालय में आज मायावती ने सुबह 11 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। जहां उनेहोंने मीडिया से मुखातिब होकर कई बड़े ऐलान किए। वहीं पार्टी कार्यकर्ताओं में मायावती के जन्मदिन को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें जन्मदिन की बधाई दी और एक्स पर इस बात की जानकारी दी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में किए बड़े ऐलान

बसपा सुप्रीमो मायावती आज अपने जन्मदिन के मौके पर हर बार की तरह मीडिया से मुखातिब होंगे। उन्होंने आज सुबह 11 बजे अपने पार्टी दफ्तर में मीडिया को संबोधित किया। जहां उन्होंने इंडिया गठबंधन को लेकर कई बड़े फैसले लेते हुए घोषण की, कि बसपा आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी। उन्होंने अपने पिछले गठबंधनों का जिक्र करते हुए कहा कि गठबंधन से बसपा को हमेशा नुकसान हुआ है और दूसरी पार्टियों को फायदा हुआ है। मायावती ने कहा, कि हम चुनाव अकेले लड़ेंगे और बेहतर रिजल्ट लाएंगे। मायावती ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह का निमंत्रण मिलने की भी जानकारी दी। लेकिन वह इसमें शामिल होंगी या नहीं, इस बात की उन्होंने सूचना नहीं दी।

मुफ्त राशन पर उठाए सवाल

मायावती ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में गरीबों, पिछड़ों, दलितों और मुसलमानों के समर्थन में कहा, कि सरकार वोट पाने के लिए इन वर्गों को मुफ्त राशन देकर लोगों के मन में लालच पैदा कर रही है। सरकार गरीबों को गुलाम बनाना जाहती है, जनता को इससे बचना चाहिए। समाज में रोजगार, स्वाभिमान और सम्मान से सिर उचा कर के जीवन यापन करें। बाबा साहेब अंबेडकर के आर्दशों को जीनव में अपनाए। उन्होंने आगे कहा कि, मैनें अपना पूरा जीवन जनता की सेवा में लगा दिया, यह मेरी अपील है कि इस बार आप अपना वोट बसपा को दें।

EVM पर उठाए सवाल

मायावती ने आज EVM मशीन पर कई सवाल उठाए और कहा कि EVM मशीनों में धांधली, बेईमानी और हेरा-फेरी चल रही है। EVM रहा तो इस देश का सिस्टम एक दिन खराब हो जाएगा। EVM मशीन पर अक्सर विपक्ष के हमले होते रहते हैं। और इस बात की सफाई चुनाव आयोग दे चुकी है। लेकिन फिर भी विपक्ष EVM पर सवाल उठाने से कतई चूकते नहीं हैं।

मायावती ने समाजवादी पार्टी पर भी उठाए सवाल

मायावती ने समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा, कि अखिलेश यादव गिरगिट की तरह रंग बदलते हैं। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी में पिछले 10-12 वर्षों से तीखी नोक-झोंक देखी गई है।

बसपा सुप्रीमो ने पुस्तक किया विमोचन

इस मौके पर कार्यालय में कई बड़े नेता भी मौजूद रहेंगे। साथ ही आने वाले लोकसभा चुनाव की रणनीति तैयारियों को लेकर भी जानकारी साझा की है। इसके अलावा आज जन्मदिन के मौके पर बसपा सुप्रीमो पुस्तक विमोचन ब्लू बुक मेरे संघर्ष में जीवन एवं बीएसपी मूवमेंट का सफरनामा भाग 19 के हिंदी और अंग्रेजी संस्करण का विमोचन किया हैं।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.