Sushil Modi Dies: BJP नेता सुशील मोदी का कैंसर के चलते 72 साल की उम्र में निधन, PM मोदी ने दी श्रद्धांजलि

New Delhi: बीजेपी के दिग्गज नेता और बिहार की राजनीति में अपनी गहरी छाप रखने वाले सुशील कुमार मोदी का निधन हो गया है।
Sushil Modi
Sushil Modi Raftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। बीजेपी के दिग्गज नेता और बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी का 72 साल की उम्र में कैंसर के चलते 13 मई को देश के सबसे बड़े अस्पताल AIIMS में निधन हो गया। वे पिछले 1 महीने से ICU में भर्ती थे। आज उनका पार्थिव शरीर नई दिल्ली से उनकी गृहभूमि पटना ले जाया जाएगा। उनके निधन के बाद बीजेपी नेताओं में शोक की लहर उमड़ गई है।

देशवासियों को दिया था आखिरी संदेश

बिहार की राजनीति में बीजेपी का मुख्य चेहरा रह चुके सुशील कुमार मोदी ने बिहार में अपने नाम का परचम लहराया। वर्तमान में चल रहे आम चुनाव में उन्होंने अपने खराब स्वास्थ्य के चलते भाग नहीं लिया। 3 अप्रैल को उन्होंने एक्स पर अपने खराब स्वास्थ्य की जानकारी दी थी। उन्होंने लिखा था कि मैं पिछले 6 महीनों से कैंसर से जूझ रहा हूं। मुझे लगता है कि अब वे समय आ गया है कि मुझे लोगों को इस बारे में बताना चाहिए। मैं इसी कारण से लोकसभा चुनाव नहीं लड़ूंगा। मैंने इस बारे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बारे में सूचना दी थी। मैं अपने देश, बिहार और पार्टी के प्रति सदैव आभारी और समर्पित रहूंगा।"

पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि

पार्टी में अपने मूल्यवान सहयोगी और दशकों से मेरे मित्र रहे सुशील मोदी जी के असामयिक निधन से अत्यंत दुख हुआ है। बिहार में भाजपा के उत्थान और उसकी सफलताओं के पीछे उनका अमूल्य योगदान रहा है। आपातकाल का पुरजोर विरोध करते हुए, उन्होंने छात्र राजनीति से अपनी एक अलग पहचान बनाई थी। वे बेहद मेहनती और मिलनसार विधायक के रूप में जाने जाते थे। राजनीति से जुड़े विषयों को लेकर उनकी समझ बहुत गहरी थी। उन्होंने एक प्रशासक के तौर पर भी काफी सराहनीय कार्य किए। जीएसटी पारित होने में उनकी सक्रिय भूमिका सदैव स्मरणीय रहेगी। शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और समर्थकों के साथ हैं। ओम शांति!

राजनाथ सिंह ने दी श्रृद्धांजलि

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता, श्री सुशील कुमार मोदी के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है। उनका लम्बा सार्वजनिक जीवन जनता-जनार्दन की सेवा और गरीब कल्याण के प्रति समर्पित था। उन्होंने बिहार में पार्टी को मज़बूत और लोकप्रिय बनाने के लिए काफ़ी परिश्रम किया। बिहार के विकास के लिए किए गए उनके कार्य हमेशा याद रखे जाएंगे। ईश्वर उनके शोक संतप्त परिवार को दुःख की इस घड़ी में धैर्य और संबल प्रदान करे। ओम शान्ति!

अश्विनी वैष्णव ने दी श्रृद्धांजलि

भाजपा के कर्मठ नेता सुशील मोदी जी के असामयिक निधन का समाचार सुनकर अत्यंत दुख हुआ। ईश्वर शोकाकुल परिजनों को दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें। ओम शांति!

बीजेपी को सत्त में वापस लाने के पीछे था सुशील कुमार मोदी का हाथ

बिहार में 2022 में जब नीतीश कुमार ने लालू प्रसाद यादव के साथ महागठबंधन की सरकार बना ली, तब उसे तोड़कर वापस बीजेपी को सत्ता में लाने की धुरी सुशील मोदी ही रहे। उन्होंने लगातार एक के बाद एक 48 प्रेस कांफ्रेंस कर लालू यादव के परिवार को पूरी तरह एक्सपोज कर दिया।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.