Israel Hamas: इजराइली संसद ने गाजा में 4 दिनों के संघर्ष विराम प्रस्ताव को दी मंजूरी, 50 बंधक रिहा करेगा हमास

Tel Aviv: आज इजराइली संसद ने अहम प्रस्ताव को मंजूरी दी। 50 बंधकों को रिहा करने के बदले 4 दिनों के संघर्ष विराम प्रस्ताव को पास किया गया है। जिन बंधकों को रिहा किया जाएगा उनमें महिलाएं और बच्चे होंगे।
Israel-Palestine Conflict
Israel-Palestine ConflictSocial Media

तेल अवीव, हि.स.। इजराइल-हमास संघर्ष में आज इजराइल की संसद ने अहम प्रस्ताव को मंजूरी दी। 50 इजराइली बंधकों को रिहा करने के बदले 4 दिनों के संघर्ष विराम प्रस्ताव को पास किया गया है। जिन बंधकों को रिहा किया जाएगा उनमें महिलाएं और बच्चे होंगे।

संघर्ष विराम समझौता

इजराइल सरकार की तरफ से जारी जानकारी के मुताबिक संघर्ष विराम समझौते के तहत हमास को 4 दिनों की अवधि में गाजा पट्टी में बंधक बनाए गए करीब 240 बंधकों में से 50 को रिहा करना होगा। आज सुबह इस प्रस्ताव पर मतदान से पूर्व प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि संघर्ष विराम खत्म होने के बाद इजराइल दोबारा हमास के खिलाफ आक्रामक अभियान शुरू करेगा।

इजराइल भी 150 फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करेगा

हिब्रू मीडिया के मुताबिक हमास जिन बंधकों को रिहा करेगा उसमें 30 बच्चे और 20 महिलाएं शामिल हैं। इन्हें हर दिन 12-13 के ग्रुप में रिहा किया जाएगा। हर 10 बंधकों के ग्रुप की रिहाई के बदले इजराइल एक दिन का संघर्ष विराम करेगा। न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक इस संघर्ष विराम के मसौदे के तहत इजराइल भी 150 फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करेगा, जिनमें महिलाएं और बच्चों को प्राथमिकता दी जाएगी।

हमास के साथ संघर्ष विराम को मंजूरी का कड़ा विरोध शुरू

हालांकि हमास के साथ संघर्ष विराम को मंजूरी का कड़ा विरोध भी शुरू हो गया है। यरुशलम पोस्ट के मुताबिक 7 अक्टूबर को हमास हमले में मारे गए इजराइली नागरिकों के परिजनों का कहना है कि आतंकियों की किसी भी कीमत पर रिहा नहीं किया जाना चाहिए। अगर आज हम उनके सामने झुकते हैं तो इस बात की क्या गारंटी है कि वे भविष्य में वे हमें निशाना नहीं बनाएंगे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

रफ़्तार के WhatsApp Channel को सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करें Raftaar WhatsApp

Telegram Channel को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें Raftaar Telegram

Related Stories

No stories found.