इस सप्ताह 3 दिन ही खुलेगा Share Market, ये फैक्टर तय करेंगे Bazaar की दिशा

Share Market Updates: इस सप्ताह शेयर बाजार तीन दिन ही खुलेगा। अयोध्या में राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा के कारण बाजार बंद रहा। अब गणतंत्र दिवस पर अवकाश रहेगा।
शेयर बाजार।
शेयर बाजार। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। इस सप्ताह शेयर बाजार तीन दिन ही खुलेगा। अयोध्या में राम मंदिर प्राण-प्रतिष्ठा के कारण बाजार बंद रहा। अब गणतंत्र दिवस पर अवकाश रहेगा। इसके अलावा शनिवार और रविवार को स्थाई रूप से बाजार बंद ही रहता है। ऐसे में मार्केट मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को ही खुलेगा। इस दौरान कंपनियों के तिमाही नतीजों, वैश्विक रुझान और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की शेयर बाजारों की दिशा तय करेगी।

अमेरिका के जीडीपी आंकड़े भी तय करेंगे बाजार की दिशा

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर के मुताबिक इस हफ्ते में अमेरिका के जीडीपी के आंकड़े, बैंक ऑफ जापान और यूरोपीय केंद्रीय बैंक के ब्याज दर पर निर्णय से बाजार की दिशा तय होगी।

इन कंपनियों के आएंगे नतीजे

इस हफ्ते एक्सिस बैंक, जेएसडब्ल्यू एनर्जी, बजाज ऑटो, डीएलएफ, एसीसी और जेएसडब्ल्यू स्टील अपने तीसरी तिमाही के नतीजों की घोषणा करेंगी। इसके अतिरिक्त बीओजे और ईसीबी के ब्याज दर पर फैसले और अमेरिका के जीडीपी आंकड़े बाजार के लिए अहम होंगे।

दिखेंगी सेक्टर स्पेसिफिक एक्टिविटीज

पिछले सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1144.8 अंक गिरा था। एनएसई और बीएसई ने 20 जनवरी को सामान्य कारोबारी सत्र आयोजित किए। स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध प्रमुख संतोष मीणा के मुताबिक आगामी बजट को लेकर उम्मीदें और सेक्टर विशेष गतिविधियां बाजार को दिशा देंगी। वैश्विक स्तर पर सबकी निगाह जापान की मौद्रिक नीति और अमेरिकी आर्थिक आंकड़ों पर टिकी होगी। इसके अतिरिक्त निवेशक भू-राजनीतिक घटनाक्रमों पर नजर रखेंगे।

FII की बिकवाली से दबाव

मीणा ने कहा कि पिछले सप्ताह बाजार में उतार-चढ़ाव दिखा। इससे सेंसेक्स और निफ्टी में एक प्रतिशत से अधिक की गिरावट दर्ज की गई है। बैंक निफ्टी का प्रदर्शन काफी खराब रहा। उन्होंने कहा, एचडीएफसी बैंक के नतीजों के बाद विदेशी संस्थागत निवेशकों (FII) की आक्रामक बिकवाली से बाजार पर दबाव और बढ़ा है। मास्टर कैपिटल सर्विसेज के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अरविंदर सिंह नंदा ने बताया कि कंपनियों की तीसरी तिमाही के नतीजे अहम होंगे।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.