भारत के इन शहरों में आसानी से नहीं मिलती एंट्री, जाने के लिए लेना पड़ता है खास परमिशन

भारत के कुछ इलाके ऐसे हैं जहां जाने के लिए भारतीय नागरिकों को भी स्पेशल परमिट की ज़रूरत पड़ती है। परमिट के बिना इन इलाकों में एंट्री भी नहीं मिलती है।
Travel Tips
Travel Tips Social Media

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। विदेश जाने का ख्याल मन में आते ही वीज़ा लगवाने का सिरदर्द हमें पकड़ लेता है। कुछ देशों का वीजा तो इतनी मुश्किल से मिलता है कि महीनों लग जाते हैं। पर क्या आप जानते हैं, भारत के भी कुछ इलाके ऐसे हैं जहां जाने की परमिट लेना वीज़ा लगवाने जितना ही पेचीदा है? कुछ इलाकों की प्राकृतिक विरासत और वहां रहने वाली जनजातियों का संरक्षण भारत सरकार की प्राथमिकता का हिस्सा है, इस वजह से उन इलाकों में जाने के लिए आम नागरिकों को विशेष परमिट की ज़रूरत पड़ती है।

लक्षद्वीप

भारत में स्थित लक्षद्वीप में जाने के लिए खास परमिट चाहिए। लक्षद्वीप जाने के लिए पर्यटक को आनलाइन आवेदन की सुविधा मिलती है। इसके जरिए पांच महीने की वैधता को लेकर परमिट मिल जाती है। परमिट को लेकर कुछ दस्तावेजों की जरुरत होती है। इसमें आईडी प्रूफ और पासपोर्ट साइज की फोटो शामिल है। साथ ही आवेदन के लिए प्रति व्यक्ति 50 रुपये देना होता है।

अरुणाचल प्रदेश

उत्तर पूर्वी भारत में प्रवेश के लिए इनर लाइन परमिट माना जाता है। अरूणाचल प्रदेश जो कि भूटान, म्यांमार और चीन से जुड़ा है। यहाँ पर कई जगह के यात्रियों पर घूमने को रोक लगी है। अरूणाचल प्रदेश जाना है तो भारतीयों नागरिकों को कुछ दस्तावेज चाहिए होता है, जिसमें पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट शामिल है। अरुणाचल प्रदेश के इनर परमिट की फीस 100 रुपये बताई गई है और यह 30 दिन तक मान्य है।

नगालैंड

नगालैंड में घूमने के लिए कोहिमा, दीमापुर, मोन, फेक, समेत कई खूबसूरत पर्यटन स्थल हैं। इन पर्यटन स्थलों पर जाने के लिए इनर लाइन परमिट की जरूरत होती है जो कि दीमापुर, कोहिमा, कोलकाता, नई दिल्ली और शिलांग के डिप्टी कमिश्नर से प्राप्त किया जा सकता है। आवेदन के लिए आधार कार्ड, पैन कार्ड या वोटर आईडी कार्ड के साथ पासपोर्ट साइज फोटो की जरूरत होती है। 15 दिन के लिए अनुमति चाहिए तो 50 रुपये और 30 दिन के लिए 100 रुपये फीस जमा करानी होती है।

मिजोरम

भारत के पूर्व- उत्तर में स्थित मिजोरम सुंदर राज्य में शामिल है। मिजोरम बांग्लादेश और म्यांमार के पास है। पर्यटकों को घूमना है तो परमिट लेना जरुरी होता है। हवाई अड्डे की मदद से इनर लाइन परमिट आसानी से मिल जाता है। परमिट लेना है तो आपको फोटो और आईडी कार्ड देना होता है। अस्थायी परमिट के लिए 120 रुपये और स्थायी परमिट के लिए 220 रुपये तक देना होता है।

सिक्किम

सिक्किम काफी खूबसरूत जगहों में शामिल है। जहां कई मठ, झीलें और आकर्षक प्राकृतिक नजारे दिख जाते हैं। छोटे से राज्य को घूमने के लिए आंतरिक अनुमति की जरूरत है। परमिट पर्यटन और नागरिक उड्डयन विभाग से प्राप्त कर सकते हैं। परमिट के लिए आईडी प्रूफ चाहिए।

Related Stories

No stories found.