USA: डोनाल्ड ट्रंप पर आपराधिक मामले में कोर्ट में चलेगा मुकदमा, राष्ट्रपति चुनाव से पहले खड़ी हुई बाधा

America: अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आपराधिक मामले में पहली बार मैनहट्टन कोर्ट में पेश हुए। अमेरिका के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है।
Donald Trump
USA
Donald Trump USARaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। अमेरिका के इतिहास में पहली बार किसी राष्ट्रपति को आपराधिक मामले में कोर्ट में पेश होना पड़ा है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 15 अप्रैल को मैनहट्टन कोर्ट में पेश हुए। उनके उपर ऐडल्ट फिल्म ऐक्ट्रैस के साथ यौन संबंध को छुपाने के लिए रिकॉर्ड में हेराफेरी करने का आरोप है।

क्या है पूरा मामला?

यह आपराधिक मामला तब का है जब 2016 में डोनाल्ड ट्रम्प राष्ट्रपति चुनाव के लिए खड़े हुए थे। चुनाव से पहले ट्रम्प के वकील, माइकल कोहेन ने ऐडल्ट फिल्म स्टार स्टॉर्मी डेनियल्स को 130,000 डॉलर का भुगतान किया था। उनसे डोनाल्ड ट्रम्प के साथ यौन संबंध के बारे में चुप रहने के लिए कहा था। डेनियल्स का असली नाम स्टेफनी क्लिफोर्ड है। डोनाल्ड ट्रंप ने इन आरोप से इनकार किया है।

ट्रम्प ऑर्गनाइजेशन से किया गया भुगतान

मैनहट्टन कोर्ट में प्रोसिक्यूटर के अनुसार, डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्रम्प ऑर्गनाइजेशन से 12 मासिक भुगतानों के जरिए कोहेन को एक बड़ी राशि का भुगतान किया। प्रोसिक्यूटर ने दावा किया कि इस भुगतान को गुप्त धन के भुगतान की बजाय कानूनी सेवाओं के लिए चेक के रुप में सौंपा गया था।

कोर्ट के पूरे प्रोसेस में पेश रहना होगा ट्रंप को

अमेरिका में इस साल राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं ऐसे में ट्रंप के खिलाफ आपराधिक ये आपराधिक मुकदमा उनके लिए एक बड़ी बाधा साबित हो सकती है। मैनहट्टन कोर्ट में डोनाल्ड ट्रंप की कार्यवाई मई तक चलने वाली है। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि दिन के समय में कोर्ट में ट्रायल में जाने की वजह से वो रात में कैंपेनिंग करेंगे। 77 वर्षीय ट्रंप को इस पूरे मुकदमे में पेश होना जरुरी है। इसके बाद जूरी के सामने गवाह की पेशी होगी। कोर्ट के ट्रायल की वजह से डोनाल्ड ट्रंप की पब्लिक इमेज खतरे पर आ गई है। क्योंकि इससे उनके चुनावी मैदान में बदनामी हो सकती है। इसके अलावा रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार की टिकट पर भी खतरे की तलवार लटक रही है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.