Bengal में ABVP सदस्यों पर तृणमूल समर्थक छात्रों का हमला, दो की हालत गंभीर

Bengal News: पश्चिम बंगाल के नदिया जिला अंतर्गत नवद्वीप के विद्यासागर कॉलेज में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) समर्थक छात्रों पर धारदार हथियारों से हमले किये गये।
Mamata Banerjee
Mamata Banerjeeraftaar.in

कोलकाता, (हि.स.) ।पश्चिम बंगाल के नदिया जिला अंतर्गत नवद्वीप के विद्यासागर कॉलेज में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) समर्थक छात्रों पर धारदार हथियारों से हमले किये गये। इस घटना में छह छात्र घायल हुए हैं जिनमें से दो की हालत गंभीर बताई जा रही है। हमले का आरोप तृणमूल छात्र परिषद के सदस्यों पर लगा है । जिन छात्रों को मारा पीटा गया है उनमें छात्राएं भी शामिल हैं जिन्हें जमीन पर गिराकर पीटने का वीडियो वायरल हुआ है। घटना मंगलवार की है। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

उनके खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा रही है

संगठन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, "तृणमूल छात्र परिषद के गुंडों द्वारा ऐसे कृत्य की अभाविप कड़े शब्दों में निंदा करती है तथा इस प्रकरण में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हेतु मांग करती है। तृणमूल कांग्रेस का संरक्षण प्राप्त टीएमसीपी के गुंडे लगातार शैक्षिणिक परिसरों के माहौल को खराब करने का प्रयास कर रहे हैं तथा उनके खिलाफ किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जा रही है।"

बंगाल सरकार की नाकामी तथा प्रदेश में कानून की दुर्गति का परिचायक है

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से कहा गया है कि बंगाल में टीएमसीपी के गुंडों के चलते विद्यार्थियों में भय व्याप्त है तथा उनके द्वारा आवाज उठाए जाने पर बंगाल सरकार द्वारा पोषित गुंडे कैंपस में अराजकता फैलाते हैं। बंगाल के शैक्षणिक परिसरों में इस प्रकार की गुंडागर्दी बंगाल सरकार की नाकामी तथा प्रदेश में कानून की दुर्गति का परिचायक है।

तृणमूल छात्र परिषद के गुंडों द्वारा हमलें में छह छात्र घायल हुए हैं

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री याज्ञवल्क्य शुक्ल ने कहा कि,” बंगाल के नवद्वीप विद्यासागर कॉलेज में तृणमूल छात्र परिषद के गुंडों द्वारा हमलें में छह छात्र घायल हुए हैं। बंगाल सरकार द्वारा पोषित गुंडे लगातार शैक्षिक परिसरों में अराजकता फैलाने का कार्य कर रहे हैं किंतु उनपर किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की जाती है। टीएमसीपी गुंडों द्वारा ऐसे कृत्य बंगाल सरकार की छात्र विरोधी एवं अराजक छवि को उजागर करती है। अभाविप घायल कार्यकर्ताओं को न्याय दिलाने व टीएमसीपी के गुंडों पर त्वरित कार्रवाई हेतु मांग करती है।”

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.