Sandeshkhali: ममता पर संदेशखाली पड़ा भारी? PM मोदी बोले- लोकसभा चुनाव TMC सरकार के अंत की शुरुआत का प्रतीक

Kolkata News: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज संदेशखाली पर खुलकर बोले उन्होंने इस दौरान कहा- संदेशखाली की घटनाएं शर्म की बात है, करीब 2 महीने तक मुख्य आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया।
PM Modi 
Sandeshkhali
PM Modi Sandeshkhali Raftaar.in

हुगली/नई दिल्ली, हि.स.। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के संदेशखाली में महिलाओं पर अत्याचार को लेकर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर तीखा हमला बोला और कहा कि लोकसभा चुनाव टीएमसी सरकार के अंत की शुरुआत का प्रतीक होगा।

बंगाल की सत्ता से विदाई की उल्टी गिनती शुरू

प्रधानमंत्री मोदी ने पश्चिम बंगाल के आरामबाग में भाजपा की विजय संकल्प जनसभा को संबोधित करते हुए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि संदेशखाली की घटनाएं शर्म की बात है, करीब 2 महीने तक मुख्य आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया। 'संदेशखाली की बहनों के साथ टीएमसी ने जो किया उसे देखकर पूरा देश गुस्से में है। उन्होंने मतदाताओं से हर चोट का जवाब वोट से देने की अपील की। उन्होंने कहा कि 'टीएमसी को भरोसा है कि उसे अल्पसंख्यकों का समर्थन प्राप्त है, लेकिन मुस्लिम भी टीएमसी के गुंडा राज के खिलाफ वोट करेंगे। टीएमसी लोकसभा चुनाव में हारेगी। मोदी ने कहा कि इससे बंगाल की सत्ता से विदाई की उल्टी गिनती शुरू हो जाएगी।

ममता सरकार ने TMC नेता को दिया संरक्षण

उन्होंने कहा कि मां, माटी, मानुष का ढोल पीटने वाली टीएमसी ने संदेशखाली की बहनों के साथ जो किया है उसे देखकर पूरा देश दुखी और आक्रोशित है। टीएमसी के नेता ने संदेशखाली में बहनों-बेटियों के साथ दुस्साहस की सारी हदें पार कर दी हैं। जब संदेशखाली की बहनों ने अपनी आवाज बुलंद की ममता दीदी से मदद मांगी, तो बदले में बंगाल सरकार ने टीएमसी नेता को बचाने के लिए पूरी शक्ति लगा दी। लेकिन भाजपा के दबाव में आखिरकार कल बंगाल पुलिस ने उस आरोपी को गिरफ्तार किया। मोदी ने कहा कि आज पश्चिम बंगाल की जनता अपनी सीएम ‘दीदी’ से सवाल कर रही है कि क्या कुछ लोगों का वोट संदेशखाली में महिलाओं पर अत्याचार से ज्यादा महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि टीएमसी ने बंगाल में अपराध और भ्रष्टाचार का एक नया मॉडल पैदा कर दिया है।

संदेशखाली घटना पर विपक्ष के मुंह पर बंधी पट्टी- PM मोदी

प्रधानमंत्री ने संदेशखाली की भयावहता के मुद्दे पर चुप्पी बनाए रखने के लिए विपक्षी इंडी गंठबंधन की भी आलोचना की। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन के लिए भ्रष्टाचारियों, परिवारवादियों और तुष्टिकरण करने वालों का साथ देना यही एक काम बचा है, यही उनके लिए सबसे बड़ा काम है। उन्होंने कहा कि इंडी गठबंधन के नेताओं ने महात्मा गांधी के तीन बंदरों की तरह संदेशखाली पर आंख, नाक, कान और मुंह बंद कर रखा है। गठबंधन के सभी कद्दावर नेता संदेशखाली घटना पर चुप हैं। उन्होंने कांग्रेस प्रमख को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अरे छोड़ो, बंगाल में तो ये सब चलता रहता है। 

इंडी गठबंधन के लिए तुष्टिकरण की राजनीति का समर्थन करना सर्वोपरि

टीएमसी सरकार पर सभी क्षेत्रों में भ्रष्ट होने का आरोप लगाते हुए मोदी ने कहा कि इंडी गठबंधन के नेताओं के लिए संदेशखाली में टीएमसी द्वारा प्रताड़ित लोगों के साथ खड़े होने के बजाय भ्रष्ट और तुष्टिकरण की राजनीति का समर्थन करना सर्वोपरि है। प्रधानमंत्री ने कहा कि बीते 10 साल में भारत 11वें नंबर की इकोनॉमी से ऊपर उठकर 5वें नंबर की आर्थिक ताकत बना है। जी-20 में कैसे भारत की जय-जयकार हुई, ये हम सबने देखा है। आज भारत स्पेस सेक्टर में अग्रणी बन रहा है। जो काम दुनिया का कोई देश नहीं कर पाया, वो हमारे चंद्रयान ने किया। आज स्पोर्ट्स के सेक्टर में भी भारत नए रिकॉर्ड बना रहा है। हम सभी का सौभाग्य है कि 5 सदियों के इंतजार के बाद 500 साल के बाद प्रभु श्रीराम अपने भव्य मंदिर में विराजे हैं।

जिसने गरीब को लूटा, उसको लौटाना ही पड़ेगा

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की इन उपलब्धियों के बीच बंगाल की स्थिति भी आज पूरा देश देख रहा है। उन्होंने कहा कि मेरी गारंटी है। मैं बंगाल के लोगों से वादा करता हूं कि लूटने वालों को लौटाना ही पड़ेगा, ये मोदी छोड़ने वाला नहीं है। मोदी इनकी गालियों और हमले से डरने वाला नहीं है। उन्होंन कहा कि जिसने गरीब को लूटा है, उसको लौटाना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल आजादी के आंदोलन की प्रेरणा स्थली रही है। गुलामी के विरुद्ध प्रखर नेतृत्व देने वाली यहां की हर संतान का सपना था कि भारत विकास की नई ऊंचाई प्राप्त करे और मैं कह सकता हूं कि आज का भारत उनके उसी सपने को पूरा कर रहा है!

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.