घोसी से NDA प्रत्याशी अरविंद राजभर ने भाजपा कार्यकर्ताओं से मांगी माफी, जानें क्या है वायरल वीडियो सच्चाई?

Arvind Rajbhar Video: लोकसभा चुनाव में उत्तार प्रदेश के घोसी से NDA गठबंधन के प्रत्याशी अरविंद राजभर का एक वीडियो इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है।
Arvind Rajbhar Video
Arvind Rajbhar VideoRaftaar

उत्तर प्रदेश, रफ्तार डेस्क। लोकसभा चुनाव में उत्तार प्रदेश के घोसी से NDA गठबंधन के प्रत्याशी अरविंद राजभर का एक वीडियो इस समय चर्चा का विषय बना हुआ है। इस वीडियो को शोसल मीडिया पर अरविंद राजभर से माफी मंगवाई गई के दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। दरअसल, मउ नगर क्षेत्र के एक प्लाजा में बृहस्पतिवार को भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने बैठक की। इस बैठक में कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के बेटे व घोसी लोकसभा से गठबंधन प्रत्याशी अरविंद राजभर भी शामिल हुए। यह वीडियो इसी बैठक का बताया जा रहा है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

ओमप्रकाश राजभर पर था भाजपा कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का आरोप

बताते चलें कि ओमप्रकाश राजभर के मंत्रिमंडल में शामिल होने से पूर्व उनके बेटे व घोसी सीट से एनडीए प्रत्याशी अरविंद राजभर ने भाजपा कार्यकर्ताओं के बारे में अभद्र टिप्पणी की थी। आरोप ऐसे भी लगते रहे की वह टिकट मिलने के बाद भी भाजपा कार्यकर्ताओं की उपेक्षा कर रहे थे। नाराजगी की भनक जैसी ही पार्टी में लगी तो लखनऊ से लेकर दिल्ली तक के नेताओं ने इसको गंभीरता लिया। इसके बाद उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक को गुरुवार को मऊ के दौरे पर भेजा गया। जहां पर कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद व समीक्षा बैठक हुई।

बैठक में जिले के महत्वपूर्ण कार्यकर्ता व नेतागण रहें मौजूद

बैठक में जिले के महत्वपूर्ण कार्यकर्ता व नेतागण मौजूद थे। इस बैठक में ब्रजेश पाठक ने मंच से उतर कर हाथ में माइक लेकर अरविंद राजभर को दिल से आशीर्वाद देने के लिए व क्षमा करने के लिए सभा में सबसे अस्वस्थ करवाया और प्रत्याशी अरविंद राजभर को बुलाकर सबके सामने दंडवत झुक कर प्रणाम करने को कहा। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे अरविंद राजभर अपनी गलतियों के लिए माफी मांग रहे हैं। कार्यकर्ताओं ने अरविंद राजभर के द्वारा माफी मांगने के बाद जय श्री राम का जयघोष लगाकर गिले शिकवे दूर किया।

कार्यकर्ता अरविंद राजभर के उपेक्षात्मक रवैया से नाराज थे

भाजपा जिलाध्यक्ष नूपुर अग्रवाल ने बताया कि कार्यकर्ता अरविंद राजभर के उपेक्षात्मक रवैया से नाराज थे। इस वजह से चुनाव के प्रति भी कार्यकर्ताओं का जोश देखने को नहीं मिल रहा था। उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने पूरे प्रकरण का पटाक्षेप कर दिया है। अब कार्यकर्ता जी-जान से लगकर प्रत्याशी के समर्थन में प्रचार करेंगे और बड़ी जीत दिलाने का काम करेंगे।

अरविंद राजभर ने मामले को बताया विपक्ष की चाल

हालांकि सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद अरविंद राजभर ने इस पूरे मामले पर अपनी सफाई दी है। उन्होंने इस पूरे मामले पर विपक्ष को राजनीति करने का लगाया आरोप लगाया है। अरविंद राजभर ने कहा कि यह पूरा वीडियो गलत तरीके से वायरल किया जा रहा है। मैं वहां माफी नहीं मांग रहा था बल्कि मै सारे कार्यकर्ताओं से व्यक्तिगत तौर पर आशीर्वाद मांग रहा था। क्योंकि मैं अच्छी तरह से जानता हूं..मैं खुद भी कार्यकर्ता हूं और जब कार्यकर्ता चाहेगा तभी जीत सुनिश्चित हो पाएंगी। माफी मंगवाई गई.. ये सरासर निराधार है। उन्होंने कहा कि "मैं विपक्ष की बातों का खंडन करता हूं.. विपक्ष के पास अब कुछ बचा नहीं है। अभी तो ये शुरुआत है वो हमारे कार्यकर्ताओं को तोड़ने के लिए वो कोई भी चाल सकते है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.