I.N.D.I.A Alliance: UP में हुआ सीट बंटवारा, 11 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, अखिलेश यादव ने की घोषणा

Lucknow: इंडिया गठबंधन में के दो दल कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के में उत्तर प्रदेश में सीट बंटवारे को लेकर निपटारा हो गया है। इस बात का अखिलेश यादव ने ऐलान किया।
I.N.D.I.A Alliance
I.N.D.I.A Alliance Raftaar.in

लखनऊ, हि.स.। विपक्षी दलों के आईएनडीआईए गठबंधन के प्रमुख घटक दल कांग्रेस उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। गठबंधन की घटक दल समाजवादी पार्टी ने इस पर सहमति जताई है। प्रदेश में राष्ट्रीय लोक दल के लिए लोकसभा की 07 सीटों पर पहले ही सहमति बन चुकी है।

अखिलेश यादव ने ट्वीट कर दी जानकारी

सपा मुखिया अखिलेश यादव ने शनिवार को सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स के जरिए उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के साथ सीट बंटवारे की जानकारी दी है। अखिलेश ने लिखा है कि कांग्रेस के साथ 11 लोकसभा सीटों से हमारे सौहार्दपूर्ण गठबंधन की अच्छी शुरुआत हो रही है। ये सिलसिला जीत के समीकरण के साथ और भी आगे बढ़ेगा। अखिलेश की इस पोस्ट के साथ ही प्रदेश में आईएनडीआईए के घटक दलों के बीच सीट शेयरिंग को लेकर उथल-पुथल की अटकलों पर विराम लग गया है। इससे पहले अखिलेश ने राष्ट्रीय लोक दल के लिए लोकसभा की 07 सीटें छोड़ने की जानकारी दी थी। उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं।

बीजेपी ने कसा तंज

आईएनडीआईए के सीट बंटवारे के सवाल पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि यह ज्यादा दिनों तक टिकने वाला नहीं है। जैसे-जैसे चुनाव करीब आएंगे वैसे-वैसे इस में दरारें सामने आने लगेंगी।

कांग्रेस ने दी प्रतिक्रिया

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि निश्चित तौर से अखिलेश का जो ट्वीट आया है, इसमें जो भी राष्ट्रीय नेतृत्व हमारे मुकुल वार्ष्णेय की अध्यक्षता में समिति बनी है, वह निर्णय ले रही है। अच्छे वातावरण में बातचीत चल रही है, बहुत जल्द ही अच्छा परिणाम आने वाला है।

हम इतिहास बदल देंगे

इससे पहले शनिवार को अपराह्न समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक्स पर ट्वीट किया और कहा कि कांग्रेस के साथ 11 मज़बूत सीटों से हमारे सौहार्दपूर्ण गठबंधन की अच्छी शुरुआत हो रही है। ये सिलसिला जीत के समीकरण के साथ और भी आगे बढ़ेगा। आईएनडीआईए की टीम और पीडीए की रणनीति इतिहास बदल देगी।

BSP ने दी नहीं दी कोई प्रतिक्रिया

गठबंधन में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी की सीटों के बंटवारे को लेकर बहुजन समाज पार्टी की ओर से कोई प्रतिक्रिया अभी नहीं आयी है। पहले बहुजन समाज पार्टी को कांग्रेस के नेता अपने साथ गठबंधन में जोड़ने के लिए मुस्लिम धर्मगुरुओं से दबाव बनाने में जुटे थे। जिस पर बहुजन समाज पार्टी के अध्यक्ष मायावती ने चुप्पी साध रखी है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.