scout-guide-gave-message-by-making-masks-of-wildlife
scout-guide-gave-message-by-making-masks-of-wildlife

स्काउट गाइड ने वन्यजीवों के मुखौटे बनाकर दिया संदेश

जोधपुर, 06 जून (हि.स.)। पारिस्थितिक तंत्र एवं जैव विविधता का संतुलन बनाए रखने के लिए जानवरों का भी अपना महत्वपूर्ण योगदान है। प्रकृति में अनेक प्रकार के जीव जंतु है जो पारिस्थितिक तंत्र के अनुरूप विकसित हुए हैं और उनका जीवन तब तक सामान्य रूप से चलता रहा है जब तक पर्यावरण अनुकूल रहा लेकिन मानव ने विकास के क्रम में न केवल पारिस्थितिक तंत्र को बिगाड़ा है बल्कि वन्यजीवों और समुद्री जीवों के अस्तित्व पर भी संकट खड़ा कर दिया है। संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित 2021 से 30 के दशक में पारिस्थितिक तंत्र की बहाली के विषय पर गहन चिंतन करते हुए राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड जिला मुख्यालय जोधपुर के स्काउट गाइड रोवर रेंजर सदस्यों ने पशु पक्षियों एवं वन्यजीवों के प्रति जन जागृति उत्पन्न करने के लिए विभिन्न जीव जंतुओं के मुखोटे तैयार किए और सोशल मीडिया पर प्रदर्शित किया। इस गतिविधि के आयोजन में कमला नेहरू महिला महाविद्यालय जोधपुर, डॉ बीआर अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय बिलाडा, राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय सूरसागर, राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय राजमहल, सूर्या ओपन गाइड कंपनी एवं सुरभि ओपन रेंजर टीम की रेंजर्स ने भाग लिया। सीओ गाइड सुयश लोढा के अनुसार पशु पक्षियों एवं वन्य जीवो के प्रति जागृति के इस प्रदर्शन में बिलाड़ा से मनीषा राजपुरोहित, सरोज चौधरी, सोनिया सीरवी, गुड्डी प्रजापत, जोधपुर से कुसुम दाधीच, मोना लीलड, भूमिका सिंह, सीमा एवं दिव्यांशी अरोड़ा की कृतियां श्रेष्ठ रही। हिन्दुस्थान समाचार/ सतीश/ ईश्वर

Related Stories

No stories found.