Ram Leela
Ram Leela Raftaar.in

Ram Mandir: 20 व 21 जनवरी को अयोध्या के कण कण में बसे श्रीराम का जीवंत चित्रण करेंगे अयोध्या के कलाकर

Madhya Pradesh News: राममय हो रहे समूचे जनमानस को श्री अंजनीलाल मंदिर धाम पर अयोध्या के प्रख्यात कलाकारों की अद्भुत प्रतिभा को देखने का अवसर मिलेगा।

राजगढ़, हि.स.। राममय हो रहे समूचे जनमानस को श्री अंजनीलाल मंदिर धाम पर अयोध्या के प्रख्यात कलाकारों की अद्भुत प्रतिभा को देखने का अवसर मिलेगा। अयोध्या के करीब 18 से 20 कलाकारों का ब्यावरा नगर में आगमन हो रहा है, वह भगवान श्रीराम के चरित्र का जीवंत चित्रण कर सभी को भावविभोर करेंगे। अयोध्या में भगवान श्रीराम के नवनिर्मित मंदिर में होने जा रहे प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम को लेकर समाज में अपार उत्साह, उमंग और श्रद्धा, भक्ति-भाव का वातावरण देखने को मिल रहा है। इसी बीच श्री अंजनीलाल मंदिर ट्रस्ट परिवार ने मंदिर धाम पर एक अद्भुत और अद्वितीय आयोजन करने का निर्णय लिया है।

श्रीरामलीला का होगा भव्य आयोजन

इस आयोजन में 20 व 21 जनवरी को रात्रि 8 से 10.30 बजे तक भगवान श्रीराम के चरित्र का जीवंत चित्रण अयोध्या के कलाकारों द्वारा किया जायेगा। आयोजन को लेकर मंदिर ट्रस्ट परिवार ने तैयारियां शुरू कर दी है। आयोजन में अयोध्या के प्रख्यात कलाकार भगवान श्रीराम के जीवन से जुड़े आदर्शों का सजीव चित्रण करेंगे। आयोजन में एक फिल्म की तरह भगवान श्रीराम के जन्म से लेकर राज्याभिषेक तक के जीवन का सजीव चित्रण किया जाएगा। 22 जनवरी दोपहर 12 बजे श्रीराम दरबार की महाआरती की जाएगी।

जनमानस में उत्साह का माहौल

मंदिर ट्रस्ट परिवार ने बताया कि इस दौरान श्री अंजनीलाल मंदिर धाम पर स्थित तीनों मंदिरों में विशेष श्रृंगार, आकर्षक विद्युत साज-सज्जा की जाएगी। अयोध्या के कलाकार पूरी रामचरित मानस को कुछ ही घंटों में बेहतर पुस्तुति के साथ पूर्ण करेंगे। इसमें फिल्म की भांति यह आयोजन एकरूपता लिये होगा, जिसमें श्रीराम के कुछ विशेष प्रसंगों का चयन करते हुए कलाकार अपने जीवंत अभिनय से जनमानस के समक्ष श्रीराम को अपने बीच होने का एहसास कराएंगे। कार्यक्रम में प्रसंगों के बीच लय होगी और सभी प्रसंग एक दूसरे से जुड़े हुए महसूस होंगे। आयोजन में महिलाएं, बच्चों के बैठने की उचित व्यवस्था रहेगी। जिले में पहली बार इस प्रकार के अद्वितीय आयोजन को लेकर जनमानस में उत्साह का माहौल है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.