No Confidence Motion: अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में गरजे राहुल, कहा- मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की गई है

Rahul Gandhi in Lok Sabha: अविश्वास प्रस्ताव पर आज लोकसभा में राहुल बोले राहुल गांधी मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की है, इनकी राजनीति ने मणिपुर को नहीं, हिंदुस्तान को मणिपुर में मारा है।
Rahul Gandhi
Rahul Gandhi

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर आज जोरदार चर्चा देखने को मिल रही है। आज की चर्चा में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत की। राहुल गांधी ने अपनी चर्चा के दौरान मणिपुर हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर हमलावर रहें। चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने कहा पिछली बार जब मैं अडानी जी पर बोला था तो लोगों को बहुत कष्ट हुआ था। राहुल गांधी ने तंज भरे लहजे में कहा, 'मैं आज अडानी पर नहीं बोलने जा रहा। इसलिए बीजेपी नेताओं को डरने की जरूरत नहीं है। उन्होने कहा जो शब्द दिल से आते हैं वो दिल में जाते हैं, आज मैं दिमाग से नहीं दिल से बोलूंगा।

मैं मोदी जी के जेल में जाने के लिए तैयार

राहुल गांधी ने कहा पिछले साल 130 दिनों तक मैं यात्रा पर था। मैने समुंदर के तट से कश्मीर की बर्फीली पहाड़ी तक यात्रा की। मेरी यात्रा अभी समाप्त नही हुई है, अभी मैं लद्दाख जाऊंगा। यात्रा के दौरान लोगो ने मुझसे पूछा राहुल तुम क्यों चल रहे हो? तुम्हारा लक्ष्य क्या है? कन्याकुमारी से कश्मीर तक क्यों जा रहे हो? इसका जवाब शायद मुझे तब नहीं मालूम था। लेकिन कुछ दिनों से मुझे समझ में आने लगा कि जिस चीज से मुझे प्यार था वो यही है। मै ने इसके लिए अपने आपको तैयार किया है। इसके लिए मैं मोदी जी के जेल में जाने के लिए तैयार हूं। मैं जिस भारत को समझने की कोशिश कर रहा था वह इस यात्रा में मुझे मिला है। राहुल ने कहा, "जब मैंने यात्रा शुरू की थी दो तीन दिन में मेरे घुटने में दर्द शुरू हो गया। हर कदम में दर्द। पहले दो तीन दिनों में जो अहंकार था, भेड़िया जो निकला था वो चींटी बन गया।"

एक छोटी लड़की ने मुझे शक्ति दी

राहुल गांधी ने कहा रोज मैं डर-डरकर चलता था कि क्या मैं कल चल पाऊंगा? यह मेरे दिल में दर्द था। मैं सह नहीं पा रहा था। लेकिन एक लड़की आती है, मुझें एक चिट्ठी दे देती है। आठ साल की लड़की लिखती है- राहुल आय एम वॉकिंग विद यू, डोंट वरी। उस लड़की ने मुझे शक्ति दी, लाखों लोगों ने मुझे शक्ति दी। कोई किसान आता था, मैं एकदम उसे अपनी बात बताता था कि आपको ये करना चाहिए, वो करना चाहिए। हजारों लोग आए, फिर मैं बोल नहीं पाता था। जो मेरे दिल में बोलने की इच्छा थी, वह बंद हो गई। एक सन्नाटा सा छा गया। भीड़ की आवाज थी। भारत-जोड़ो, भारत-जोड़ो। जो मेरे से बात करता गया, उसकी आवाज मै सुनता गया।

किसानों को बीमा का पैसा नहीं मिला

कहीं किसानों को बीमा का पैसा नहीं मिला। क्योकि हिंदुस्तान के बड़े उद्योगपतियों ने उनसे छीन लिया। मगर इस बार बड़ी अजीब सी चीज हुई। जब मैंने किसान को देखा और वो मुझसे बोल रहा था। तो जो उसके दिल में दर्द था वो मेरे दिल में आया। जो उसके आंखों में शर्म थी जब वो अपनी बीवी से बात करता था वो मेरी आंखों में आई। जब उसकी जो भूख थी वो मुझे समझ आई। उसके बाद यात्रा बिल्कुल बदल गई। मुझे भीड़ की आवाज नहीं सुनाई देती थी, मुझे सिर्फ उस व्यक्ति की बात सुनाई देती थी जो मुझसे बात करता था। मेरा दुख, मेरी चोट, मेरा दर्द सब खत्म हो गया। उसका दर्द, उसकी चोट, उसका दुख, मेरा दुख, मेरी चोट, मेरा दर्द बन गया।

रावण मेघनाद और कुंभकर्ण की सुनता था

इसके बाद राहुल गांधी ने मणिपुर मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि कुछ ही दिन पहले मैं मणिपुर गया। हमारे प्रधानमंत्री आज तक मणिपुर नहीं गए क्योंकि उनके लिए मणिपुर हिन्दुस्तान नहीं है। लेकिन आज जब मैंने मणिपुर शब्द प्रयोग किया है, लेकिन इसकी सच्चाई यह है कि मणिपुर नहीं बचा है। मणिपुर को आपने दो भाग में बांट दिया है, तोड़ दिया है। मैं मणिपुर में राहत शिविरों में गया। वहां महिलाओं से बात की, बच्चों से बात की, जो प्रधानमंत्री ने आज तक नहीं की। नरेंद्र मोदी हिंदुस्तान की आवाज नहीं सुनते हैं। वो तो दो लोगों की आवाज सुनते हैं, जिसमे एक अमित शाह और दुसरे अडानी जी है। मोदी जी रावण भी दो लोगों की सुनता था। मेघनाद और कुंभकर्ण।

मेरी माता का मणिपुर में मर्डर हुआ है

राहुल गांधी ने आगे कहा आप भारत माता रखवाले नहीं हो। आप भारत माता के हत्यारे हो। आप देशद्रोही हैं। मेरी एक मां यहां बैठी है। दूसरी मां को मणिपुर में मारा गया है। हिंदुस्तान की सेना चाहे तो मणिपुर में एक दिन में शांति बहाल कर सकती है। सरकार मणिपुर में शांति नहीं चाहती है। मोदी देश की आवाज नहीं सुनते। बीजेपी की राजनीति ने मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की है। तुम देशद्रोही हो, राष्ट्रद्रोही हो, आपने भारत माता की हत्या की है। आप भारत माता के रखवाले नहीं हो, भारत माता के हत्यारे हो। राहुल गांधी ने कहा मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की है, इनकी राजनीति ने मणिपुर को नहीं, हिंदुस्तान को मणिपुर में मारा है। हिंदुस्तान का मणिपुर में मर्डर किया है। मेरी माता का मणिपुर में मर्डर किया है।

Related Stories

No stories found.