Weather: एयरपोर्ट-रेलवे स्टेशन पर यात्री बेहाल, देरी से चल रहीं 120 उड़ानें, 53 रद्द; ट्रेनें भी घंटों लेट

New Delhi: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के सफदरजंग में आज सुबह न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली एयरपोर्ट ने घने कोहरे के कारण उड़ान संचालन में देरी की सूचना दी है।
Delhi Weather
Delhi Weather Raftaar.in

नई दिल्ली, हि.स.। समूचा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है। दिल्ली-एनसीआर के लोगों को भीषण ठंड का सामना करना पड़ रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के सफदरजंग में आज सुबह न्यूनतम तापमान 5.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली एयरपोर्ट ने घने कोहरे के कारण उड़ान संचालन में देरी की सूचना दी है। इससे घरेलू और अंतरराष्ट्रीय आगमन और प्रस्थान दोनों सहित लगभग 120 उड़ानें प्रभावित हुई हैं। 21 घरेलू आगमन, 16 घरेलू प्रस्थान, 13 अंतरराष्ट्रीय प्रस्थान और तीन अंतरराष्ट्रीय आगमन सहित कुल 53 उड़ानें कोहरे और अन्य परिचालन कारणों से दिल्ली हवाई अड्डे से रद्द कर दी गई हैं।

गणतंत्र दिवस परेड की रिहर्सल जारी

रेलवे अधिकारियों के अनुसार, दिल्ली पहुंचने वाली 20 ट्रेनें कोहरे के कारण देरी से चल रही हैं। इस बीच कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड की रिहर्सल जारी रही। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद सुबह घना कोहरा छाया रहा। पंजाब के अमृतसर में शीतलहर के बीच घना कोहरा छाया रहा। विजिबिलिटी काफी कम रही। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, अमृतसर में आज न्यूनतम तापमान 5 और अधिकतम 12 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है।

उत्तर भारत के इन राज्यों में कोहरा छाया रहा

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने आज सुबह 7 बजे की नवीनतम सेटेलाइट तस्वीर जारी की है। विभाग ने कहा कि आधी रात के बाद से बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तरी मध्य प्रदेश और दिल्ली में कोहरा कुछ कम रहा। हालांकि, पंजाब, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तर-पश्चिमी राजस्थान के कुछ हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा।

रेल और सड़क यातायात प्रभावित

दिल्ली में 24 घंटे पहले मंगलवार सुबह ठंड रही लेकिन दोपहर में धूप खिलने से लोगों को राहत मिली। अधिकतम तापमान मौसम के औसत से 2 डिग्री कम 17.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज गया। राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा। इससे रेल और सड़क यातायात प्रभावित हुआ।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.