Lok Sabha Election: Congress ने चला नया दांव, आम लोगों के सुझावों से तैयार करेगी चुनावी मैनिफेस्टो

New Delhi: लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस अपना घोषणा पत्र आम लोगों की राय से तैयार करेगी। देश का कोई भी नागरिक कांग्रेस को ईमेल और वेबसाइट के माध्यम से सुझाव दे सकता है।
Congress
Congress Raftaar.in

नई दिल्ली, हि.स.। कांग्रेस का कहना है कि लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी अपना घोषणा पत्र आम लोगों की राय से तैयार करेगी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष पी चिदंबरम ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस का घोषणा पत्र जनता का घोषणा पत्र बनने जा रहा है। हम आम लोगों की राय लेकर घोषणा पत्र तैयार करेंगे। देश का कोई भी नागरिक हमें ईमेल और वेबसाइट के माध्यम से सुझाव दे सकता है।

सुझाव देने की प्रक्रिया

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा कि 'आवाज भारत की'- एक पहल है कि लोगों के सुझावों के आधार पर कांग्रेस का घोषणा पत्र तैयार किया जा सके। उन्होंने कहा कि लोग अपने सुझाव awaazbharatki@inc.in पर ईमेल के जरिए भेज सकते हैं और https://awaazbharatki.in के माध्यम से भी अपने सुझाव हम तक पहुंचा सकते हैं।

'डोनेट फॉर देश' अभियान

कांग्रेस द्वारा पिछले महीने से चलाए जा रहे 'डोनेट फॉर देश' अभियान अभी शुरु ही हुआ था कि एक फर्जी वेबसाइट ने कांग्रेस की मेहनत पर मेहनत पर पानी फेर दिया। राहुल गांधी की आगामी 'भारत जाड़ो न्याय यात्रा' से पहले एक विशेष पैम्फलेट जारी किया। पैम्फलेट में 'डोनेट फॉर देश' वेबसाइट के क्यूआर कोड और यूआरएल का भी उल्लेख किया गया था, सिवाय इसके कि दोनों गलत थे। आधिकारिक 'डोनेट फॉर देश' अभियान का यूआरएल Donateinc.in है, लेकिन पैम्फलेट पर Donateinc.co.in छपा हुआ था और क्यूआर कोड में भी इसका इस्तेमाल किया गया था।

फर्जी वेबसाइट का कोई और उठा रहा फायदा

संयोग है या नहीं, Donateinc.co.in पर जो कि गलत पता है, एक वेबसाइट मौजूद है जिसने कांग्रेस की आधिकारिक और 'सही' क्राउडफंडिंग वेबसाइट से अधिकांश पाठ, चित्र और शैली की नकल की है। जाहिर तौर पर यह एक फर्जी वेबसाइट है जिसे जानबूझकर कांग्रेस पार्टी को दान देने के इच्छुक लोगों को धोखा देने के लिए लक्षित किया गया है। यदि कोई व्यक्ति पर्याप्त सतर्क नहीं है, तो वह सोचेगा कि पैसा कांग्रेस पार्टी को जा रहा है, लेकिन वास्तव में यह अज्ञात लोगों के पास जाता है। फर्जी वेबसाइट (इस रिपोर्ट के प्रकाशन के समय भी सक्रिय) केवल UPI ऐप्स के माध्यम से दान स्वीकार कर रही है।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.