असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा- राहुल गांधी 'डरपोक' हैं

Guwahati News: मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी 'डरपोक' हैं।
Himanta Biswa Sarma and Rahul Gandhi
Himanta Biswa Sarma and Rahul Gandhiraftaar.in

गुवाहाटी, (हि.स.)। मुख्यमंत्री डॉ हिमंता बिस्वा सरमा ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी 'डरपोक' बताया है। मुख्यमंत्री ने कहा, 'राहुल गांधी ने अपनी यात्रा के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिंसा भड़काने के लिए प्रोत्साहित किया। इसके बाद वे चुपचाप अपनी लग्जरी बस से बाहर निकल गए और एक छोटी कार में सवार होकर शहर छोड़कर अपने अगले पड़ाव हाजो की ओर चले गए।'

राहुल ने डरपोक होने का एक नया मानक स्थापित किया है...हा हा

कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा 11वें दिन असम के बोंगाईगांव में पहुंची हैं। मुख्यमंत्री डॉ सरमा ने बुधवार को सोशल मीडिया के जरिए राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाए। मुख्यमंत्री सरमा ने अपने एक्स हैंडल पर बुधवार को लिखा, "दिलचस्प... कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिंसा के लिए उकसाने के बाद, राहुल गांधी (जो बस यात्रा पर हैं) चुपचाप अपनी फैंसी बस से बाहर आए और एक छोटी कार से शहर से भाग गए हाजो, जो उनकी अगली मंजिल है। राहुल ने डरपोक होने का एक नया मानक स्थापित किया है...हा हा।"

कब क्या हुआ राहुल गांधी के भारत जोड़ो न्याय यात्रा को लेकर असम में

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को गुवाहाटी में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान कांग्रेस समर्थकों और असम पुलिस के बीच हुई झड़प मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल और कन्हैया कुमार समेत अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।एफआईआर में उन पर कई गैर जमानती धाराएं लगाई गई हैं।

इससे पहले राज्य में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए असम पुलिस ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी द्वारा आयोजित 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' के काफिले को बटद्रवा सत्र थान जाने से रोक दिया था। जिले के धिंग गेट पर तैनात पुलिस ने राहुल गांधी के काफिले को रोकने का कारण बताते हुए कहा था कि दोपहर 3 बजे से पहले उनकी यात्रा बटद्रवा थान नहीं जा सकती है। पुलिस ने एक एडवाइजरी जारी की थी। एडवाइजरी के अनुसार यात्रा के दौरान निर्धारित स्थानों पर ही ठहराव की अनुमति दी जाएगी। कार्यक्रम के सुचारू संचालन को सुनिश्चित करने के लिए पुलिस ने यह निर्देश जारी किया था।

खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.