Bharat Jodo Nyay Yatra: राहुल गांधी का CM हिमंता पर तंज, कहा- सरकार के कारण असम का मुख्य मुद्दा बनी यात्रा

Bharat Jodo Nyay Yatra: राहुल गांधी ने शाम को प्रेस वार्ता में कहा कि 'असम के सीएम जो भी कर रहे हैं, उससे उनकी यात्रा को फायदा मिल रहा है। हिमंता बिस्वा सरमा देश के सबसे भ्रष्ट सीएम हैं।
 CM Himanta, Rahul Gandhi
CM Himanta, Rahul GandhiRaftaar

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में निकाली जा रही कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा इस समय नॉर्थ ईस्ट के असम में है। यहां पर यात्रा के साथ कई विवाद भी साथ-साथ चल रहे हैंं। आज असम के गुवाहाटी में इस यात्रा और सरकार को लेकर बारी तनाव देखने को मिला है। शहर में यात्रा की इजाजत न मिलने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस में जबरदस्त झड़प देखने को मिली है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर हुआ लाठीचार्ज

दरअसल, राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रहीं भारत जोड़ो न्याय यात्रा आज मंगलवार को असम के गुवाहाटी में पहुंची थी। जाहां पर शहर से इस यात्रा को निकने को लेकर बवल हो गया। शहर में यात्रा की इजाजत न मिलने पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस बल में जबरदस्त झड़प हो गई। जिसमें कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पुलिस की ओर से लगाए गए बैरिकेट्स को तोड़ दिया। जिसके बाद सूबे के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने पुलिस महानिदेशक को राहुल गांधी के खिलाफ केस दर्ज करने का निर्देश दे दिया। यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हो गई। पुलिस को भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।

CM हिमंता ने दिया डीजीपी को राहुल के खिलाफ केस दर्ज करने का निर्देश

सरकार की तरफ से मिली जानकारी के अनुसार राहुल गांधी को शहर में यात्रा करने की इजाजत नही मिली थी। जिससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस में झड़प शुरू हो गई। इस बीच असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने झड़प को लेकर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की और असम के डीजीपी को राहुल गांधी के खिलाफ केस दर्ज करने के निर्देश जारी कर दिए है।

क्या कहा मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने?

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर लिखा, 'ये असमिया संस्कृति का हिस्सा नहीं हैं। हम एक शांतिपूर्ण राज्य हैं। ऐसी "नक्सली रणनीति" हमारी संस्कृति से पूरी तरह अलग हैं। मैंने असम पुलिस के डीजीप को भीड़ को उकसाने के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ मामला दर्ज करने और अपने हैंडल पर पोस्ट किए गए फुटेज को सबूत के रूप में उपयोग करने का निर्देश दिया है। राहुल गांधी के अनियंत्रित व्यवहार और सहमत दिशानिर्देशों के उल्लंघन के परिणामस्वरूप अब गुवाहाटी में बड़े पैमाने पर ट्रैफिक जाम हो गया है।'

इस पर कांग्रेस ने क्या कहा?

दरअसल, भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास भद्रावती वेंकट ने झड़प की एक वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर साझा किया। जिसमें उन्होंने लिखा, 'राहुल गांधी जी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा को एक बार फिर से बैरिकेडिंग लगाकर रोकने की साजिश हुई है, लेकिन हम ये अब होने नही देंगे। जितनी लाठियां चलानी है चलाओ। ये जंग अब जारी रहेगी।

राहुल गांधी ने क्या कहा?

राहुल गांधी ने इस मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘बजरंग दल इसी रास्ते से गया था। इसी रूट पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैली भी हुई थी। यहां एक बैरिकेड था, हमने बैरिकेड तोड़ दिया लेकिन हम कानून नहीं तोड़ेंगे। हमें कमजोर मत समझिए। यह कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की ताकत है। असम के लोगों को दबाया जा रहा है। छात्रों के साथ मेरी बातचीत रद्द कर दी गई। अधिकारियों से कहा गया कि मुझे छात्रों से न मिलने दिया जाए, इसके बावजूद वे मुझसे मिलने के लिए बाहर आए। मेरा मैसेज है कि कांग्रेस कार्यकर्ता BJP और RSS से नहीं डरते।’

हमारी यात्रा का संदेश गांवों तक पहुंच रहा है

इसके बाद राहुल गांधी ने शाम को प्रेस वार्ता कर पत्रकारों के पूछे सवाल के जवाब में कहा कि 'असम के सीएम जो भी कर रहे हैं, उससे उनकी यात्रा को फायदा मिल रहा है। उन्होंने कहा इससे हमारा प्रचार हो रहा है। असम के सीएम के कारण हमारी 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' असम का मुख्य मुद्दा बना गई है। हमारी यात्रा का संदेश गांवों तक पहुंच रहा है। इस तरह सीएम और गृह मंत्री अमित शाह हमारी मदद कर रहे हैं। ये डराने की कोशिश है, लेकिन हम डरने वाले नहीं है। लोग बोल रहे हैं कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा गुवाहाटी में जा सकते हैं तो राहुल गांधी क्यों नहीं जा सकते?'' राहुल गांधी ने आगे कहा कि हिमंत बिस्व सरमा देश के सबसे भ्रष्ट सीएम हैं। यहां काफी बेरोजगारी है। यहां स्टूडेंट को सरकार गुलाम बनाने की कोशिश कर रहीं है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.