Pandora Papers leak Case: ED ने पेंडोरा पेपर्स लीक मामले में 30.60 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की

प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को जारी बयान में यह जानकारी दी। एजेंसी ने बताया कि पेंडोरा पेपर नामक वैश्विक वित्तीय डेटा लीक के दौरान जिन दो भाइयों विक्रम स्वरूप और गौरव स्वरूप के नाम सामने आए।
Pandora Papers leak Case
Pandora Papers leak CaseAgency

नई दिल्ली, (हिन्दुस्थान समाचार)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पेंडोरा पेपर्स लीक मामले में 30.60 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। जांच एजेंसी ने विदेशी मुद्रा प्रबंधन (फेमा) के प्रावधानों के उल्लंघन मामले में विक्रम स्वरूप और गौरव स्वरूप से संबंधित प्रतिभूतियों में निवेश को जब्त किया है।

ईडी नें 30.60 करोड़ रुपये जब्त किये

प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को जारी बयान में यह जानकारी दी। एजेंसी ने बताया कि पेंडोरा पेपर नामक वैश्विक वित्तीय डेटा लीक के दौरान जिन दो भाइयों विक्रम स्वरूप और गौरव स्वरूप के नाम सामने आए थे, उनके खिलाफ फेमा उल्लंघन के कथित मामले में प्रतिभूतियों में किए गए 30.60 करोड़ रुपये मूल्य के निवेश को जब्त किया गया है।

फेमा की धारा 37ए का हवाला दिया गया

जांच एजेंसी के मुताबिक पेंडोरा पेपर मामले में भारतीय व्यवसायी विक्रम स्वरूप और गौरव स्वरूप ‘एप्सिलॉन एंटरप्राइजेज लिमिटेड’ के बैंक खातों में लाभार्थी थे। ये खाते स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक, जर्सी और बैंक जे सफरा सरसिन, स्विट्जरलैंड में थे। ईडी ने बताया कि जांच में पाया गया कि स्वरूप बंधुओं के पास इन खातों में विदेशी मुद्रा के रूप में संपत्ति थी, जो विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) 1999 की धारा चार का उल्लंघन है। इसे फेमा की धारा 37ए के तहत जब्त किया है। इस मामले में आगे की जांच जारी है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.