अगर नजर आ रहे हैं ये पांच लक्षण तो ना करें नजरअंदाज, हो सकता है गले का कैंसर 

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है लेकिन अगर यह कैंसर आपके गले में है तो इसके लक्षण कुछ डिफरेंट नजर आएंगे।  जैसे कान के दोनों हिस्सों के नीचे लगातार दर्द होना एक अहम लक्षण है। 
cancer tips
cancer tipsweb

नई दिल्ली रफ्तार डेस्क: कैंसर एक ऐसी बीमारी है।  जिसका नाम सुनते ही दिल और दिमाग दोनो एक पल के लिए काम करना बंद कर देता है। इस बीमारी की पहचान जहन में इस तरह बन गई है कि लोग कैंसर  को सीधे मौत से जोड़ने लगते हैं। बदलती  लाइफस्टाइल और बिगड़े खान-पान वा नशीले पदार्थ जैसे सिगरेट तंबाकू गुटका आदि खाने वाले लोगों को कैंसर अपनी चपेट में तो ले लेता है लेकिन जरूरी नहीं है कि अगर आप इन चीजों का  सेवन नहीं कर रहे हैं तो आपको कैंसर नहीं होगा गले का कैंसर आजकल युवाओं में तेजी से पनपने वाली बीमारी बनता जा रहा है। यह कैंसर गले या टॉन्सिल में विकसित होता है। गले में कैंसर के लक्षण बहुत डिफरेंट तरीके के होते है। जिनकी पहचान करना व्यक्ति के लिए थोड़ा मुश्किल होता है। ऐसा इसलिए होता है कि जो लक्षण उन्हे  होते है। व्यक्ति उन्हे कैंसर से ना जोड़कर सामान्य बीमारी से जोड़ने लगता है। जिससे यह आगे चलकर घातक साबित होता है। आइए जानते है। ऐसे कौन से लक्षण है। 

वजन में कमी आना 

अक्सर देखा गया है कि व्यक्ति के वजन में कमी आने के कई कारण होते है।  लेकिन  यदि आपके वजन में तेजी से कमी आ रही है। और आपको उठते बैठते चक्कर आ रहे हैं तो यह गले में कैंसर के संकेत हो सकते हैं।

आवाज में परिवर्तन

जब बोलने में भारीपन आ जाए या फिर  आवाज में भारीपन ,  बदलाव महसूस हो रहा है। तो गले में कैंसर हो सकता है। इसका साथ ही  हल्का दर्द भी हो रहा हो तो गले में कैंसर के शुरुआती संकेत हो सकते हैं लेकिन यह संकेत आपको सचेत करते हैं कि आप सही समय पर इसका इलाज कराएं। 

खाना निगलने में परेशानी

जब हम भोजन करते हैं तो भोजन को निगलने में परेशानी होती है। तो ऐसा लगता है  कि गले में कुछ अटका हुआ महसूस हो रहा है। पानी पीते वक्त रुककर जाना गले में कैंसर के संकेत होते हैं। 

कान में दर्द

कई बार कान में दर्द कई वजहों से होता है जैसे कंगुज, खूंट निकालते समय नुकीली चीज का चुभ जाना। अगर  कान में दर्द लगातार है। आप  बहुत दिनों तक परेशान है। तो  इसे सिर्फ सामान्य कान का दर्द ना समझे बल्कि यह गले का कैंसर भी हो सकता है।  अगर  आपको सुनने में भी परेशानी आ रही हो तो आप नजरअंदाज ना करें तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। 

अलग तरह की खांसी जुकाम

जब गले का कैंसर होता है। तब गले में अलग तरह का कफ होता है। तब ऐसा लगता है कि कफ से बहुत ज्यादा  मुंह भर गया है। अगर दवाइयां को खाने के बाद भी फिर से आ जाए और ज्यादा दिनों तक यह बना रहे तो परेशानी का स्वभाव बनता है ऐसे में गले के कैंसर के रूप में हो सकता है।

समरी

* अगर नजर आ रहे हैं ये पांच लक्षण तो ना करें नजरअंदाज, हो सकता है गले का कैंसर 

*कैंसर एक जानलेवा बीमारी है लेकिन अगर यह कैंसर आपके गले में है तो इसके लक्षण कुछ डिफरेंट नजर आएंगे।  जैसे कान के दोनों हिस्सों के नीचे लगातार दर्द होना एक अहम लक्षण है।  इसके अलावा अगर ये लक्षण भी नजर आए तो आप सचेत हो जाएं।

* कैंसर एक ऐसी बीमारी है।  जिसका नाम सुनते ही दिल और दिमाग दोनो एक पल के लिए काम करना बंद कर देता है। इस बीमारी की पहचान जहन में इस तरह बन गई है कि लोग कैंसर  को सीधे मौत से जोड़ने लगते हैं।

*  बदलती  लाइफस्टाइल और बिगड़े खान-पान वा नशीले पदार्थ जैसे सिगरेट तंबाकू गुटका आदि खाने वाले लोगों को कैंसर अपनी चपेट में तो ले लेता है लेकिन जरूरी नहीं है कि अगर आप इन चीजों का  सेवन नहीं कर रहे हैं तो आपको कैंसर नहीं होगा गले का कैंसर आजकल युवाओं में तेजी से पनपने वाली बीमारी बनता जा रहा है।

*  यह कैंसर गले या टॉन्सिल में विकसित होता है। गले में कैंसर के लक्षण बहुत डिफरेंट तरीके के होते है। जिनकी पहचान करना व्यक्ति के लिए थोड़ा मुश्किल होता है। ऐसा इसलिए होता है कि जो लक्षण उन्हे  होते है।

*  व्यक्ति उन्हे कैंसर से ना जोड़कर सामान्य बीमारी से जोड़ने लगता है। जिससे यह आगे चलकर घातक साबित होता है। आइए जानते है। ऐसे कौन से लक्षण है। 

*अक्सर देखा गया है कि व्यक्ति के वजन में कमी आने के कई कारण होते है।  लेकिन  यदि आपके वजन में तेजी से कमी आ रही है। और आपको उठते बैठते चक्कर आ रहे हैं तो यह गले में कैंसर के संकेत हो सकते हैं।

*जब बोलने में भारीपन आ जाए या फिर  आवाज में भारीपन ,  बदलाव महसूस हो रहा है। तो गले में कैंसर हो सकता है। इसका साथ ही  हल्का दर्द भी हो रहा हो तो गले में कैंसर के शुरुआती संकेत हो सकते हैं लेकिन यह संकेत आपको सचेत करते हैं कि आप सही समय पर इसका इलाज कराएं। 

*जब हम भोजन करते हैं तो भोजन को निगलने में परेशानी होती है। तो ऐसा लगता है  कि गले में कुछ अटका हुआ महसूस हो रहा है। पानी पीते वक्त रुककर जाना गले में कैंसर के संकेत होते हैं। 

*कई बार कान में दर्द कई वजहों से होता है जैसे कंगुज, खूंट निकालते समय नुकीली चीज का चुभ जाना। अगर  कान में दर्द लगातार है। 

* आप  बहुत दिनों तक परेशान है। तो  इसे सिर्फ सामान्य कान का दर्द ना समझे बल्कि यह गले का कैंसर भी हो सकता है।  अगर  आपको सुनने में भी परेशानी आ रही हो तो आप नजरअंदाज ना करें तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। 

*जब गले का कैंसर होता है। तब गले में अलग तरह का कफ होता है। तब ऐसा लगता है कि कफ से बहुत ज्यादा  मुंह भर गया है। अगर दवाइयां को खाने के बाद भी फिर से आ जाए और ज्यादा दिनों तक यह बना रहे तो परेशानी का स्वभाव बनता है ऐसे में गले के कैंसर के रूप में हो सकता है।

Related Stories

No stories found.