फ्लाइट उड़ाते समय लग रहा है डर, इन बातों का रखें खास ध्यान

फ्लाइट के समय आपको कुछ चीजों को खास ध्यान रखना जरूरी है जिसके आपकी यात्रा आसान हो सकती है।
Travel Tips
Travel Tips Pixabay

आज यात्रियों के लिए फ्लाइट में काफी आसान हो जाता है। कुछ दूरी की यात्रा को लेकर लोग फ्लाइट से जाना पसंद हो जाता है। एयरलाइंस ने यात्रियों की सुरक्षा को ध्‍यान में रखने के बाद कई नियमों को बनाया है।

जिसकी जानकारी फ्लाइट के टेक ऑफ और लैंडिंग के समय यात्रियों को दी जाती है। नियमाें का पालन हर यात्री को करने की जरूरत है।

फ्लाइट में रखें खास ध्यान

फ्लाइट के उड़ान भरने और लैंडिंग के दौरान अक्‍सर विंडो ब्‍लाइंड यानी खिड़कियां खोलने को लेकर बोला जाता है। पर क्‍या आपने कभी ये सोचा है कि क्या करना है। उनके डर को कम करने को लेकर कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। इसके पीछे की वजह कुछ और है, जिसके बारे में हम जान लेते हैं।

कैबिन क्रू को बोले थैंक्स

अगर कैबिन क्रू फ्लाइट या फिर लैंडिंग के दौरान खिड़की खुलवाती हैं तो उनको थैंक्स बोलने की जरूरत है। यह नियम भी यात्रियों के लिए बनाया गया है। सुरक्षा के हिसाब से देखा जाए तो खिड़िकियों के पर्दे को खुला होना अहम होता है।

खिड़कियों के पर्दे को रखें खुला

सुरक्षा को लेकर देखा जाए तो समय खिड़कियों के पर्दे भी खुले रहना जरूरी होता है। यह उड़ान को लेकर सबसे अहम है। इससे किसी भी आपत्तिजनक स्थिति में इमरजेंसी एग्जिट को लेकर काफी उम्मीद हो जाती है। खिड़की खुली रहती है, तो किसी भी तरह की दुर्घटना से बचने होता है। खिड़कियां खुली के दौरान यात्री भी खुद को किसी भी इमरजेंसी के लिए तैयार किया जाता है।

मौसम का रखें खास ध्यान

फ्लाइट के टेक ऑफ और लैंंडिंग में वायुमंडलीय दबाव में कई तरह के बदलाव आ सकता है। ऐसे में खिड़की खुली रखने से बादल और बरसात से जुड़ी जानकारी भी मिल जाती है। साथ ही विमान का इंजन किसी पक्षी या वस्‍तु से टकराना नहीं बल्कि, इसकी जानकारी प्राप्‍त करने को लेकर खिड़की को खुला रखने को लेकर बोला जाता है।

लैंडिंग के दौरान लगता है डर

वैसे कई लोगों की बात करें तो फ्लाइट की लैंडिंग और टेक ऑफ के दौरान बाहर देखने में काफी डर होता है। ऐसे में लोग खिड़कियों के पर्दे भी लग जाते हैं। लेकिन एयरलाइंस को लेकर लैंडिंग और टेक ऑफ के दौरान खिड़कियों के पर्दे खुले रखनेको लेकर हिदायत मिलती है। इससे कैबिन क्रू को बाहर कर सकते हैं।

टेक आफ के समय होती है दिक्कत

सबसे ज्‍यादा विमान दुर्घटना फ्लाइट की लैंडिंग और टेक ऑफ के समय ही हो जाती है। इसलिए नियमाें का सख्‍ती से पालन करने की जरूरत होती है। इस दौरान किसी पैसेंजर की सीट पीछे की ओर झुकती है , तो उसे सीधा करने को बोला जाता है। क्योंकि झुकी हुई सीट, ठीक से लॉक करने में दिक्कत होती है।

Related Stories

No stories found.