WTC Final 2023: टीम इंडिया के लिए राहत की खबर, ड्यूक गेंद से ही खेला जाएगा मुकाबला

पिछले काफी समय से ड्यूक गेंद की क्वालिटी में गिरावट की शिकायत की जा रही है। इसके कारण जल्द ही गेंद स्विंग करना बंद कर देती है या फिर गेंद के शेप में बदलाव आ जाता है।
IND vs AUS
IND vs AUS

नई दिल्ली, रफ्तार न्यूज डेस्क। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे सत्र का फाइनल इंग्लैंड के द ओवल मैदान पर 7 जून से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच में खेला जाना है। इस महामुकाबले को लेकर काफी समय से यह चर्चा हो रही थी कि इसमें कूकाबुरा गेंद का इस्तेमाल किया जाएगा। लेकिन अब इस विषय पर BCCI के एक अधिकारी ने बयान दिया है।

रिकी पांटिंग ने दिया था बयान

पिछले काफी समय से ड्यूक गेंद की क्वालिटी में गिरावट की शिकायत की जा रही है। इसके कारण जल्द ही गेंद स्विंग करना बंद कर देती है या फिर गेंद के शेप में बदलाव आ जाता है। कुछ दिन पहले ही पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर रिकी पोंटिंग ने WTC फाइनल में कूकाबुरा गेंद से खेले जाने के बारे में बयान दिया था।

ड्यूक गेंद से ही खेला जाएगा WTC फाइनल

अब BCCI ऑफिशियल ने एक मीडिया एजेंसी को दिए अपने बयान में बताया कि हम ड्यूक गेंद से ही खेलेंगे। टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने ड्यूक गेंद से अभ्यास करना भी शुरू कर दिया है। भारत के तेज गेंदबाजों ने IPL के बीच में ड्यूक गेंद से तैयारी करना भी शुरू कर दिया है।

ड्यूक गेंद की क्वालिटी पर हो रही शिकायत 

बता दें कि इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट ड्यूक गेंद से खेला जाता है। पिछले कुछ समय से अब लगातार इसकी क्वालिटी में गिरावट देखने को मिल रही है। कूकाबुरा और एसजी रेड बॉल के मुकाबले ड्यूक गेंद का शेप जल्दी बदल जाता है। इंग्लैंड टीम ने भी ड्यूक की क्वालिटी को लेकर शिकायत की थी। इसमें इंग्लैंड द्वारा गेंद के जल्द सॉफ्ट होने की बात कही गई थी।

विस्तृत ख़बरों के लिए क्लिक करें - www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.