इन खिलाड़ियों ने पहली बार भारत को दिलाया था U19 वर्ल्ड कप की ट्रॉफी, जानें कहां और किस हालात में हैं वो दिग्गज

Under-19 World Cup: अंडर-19 वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला 11 फरवरी को खेला जाना है। इसमें भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुकाबला होगा। भारत ने इस टूर्नामेंट में अपने सभी मैच जीते हैं।
अंडर-19 वर्ल्ड कप में पहुंची टीम इंडिया।
अंडर-19 वर्ल्ड कप में पहुंची टीम इंडिया। @BCCI एक्स सोशल मीडिया।

नई दिल्ली, रफ्तार। अंडर-19 वर्ल्ड कप का फाइनल मुकाबला 11 फरवरी को खेला जाना है। इसमें भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मुकाबला होगा। भारत ने इस टूर्नामेंट में अपने सभी मैच जीते हैं। यह देखकर वनडे वर्ल्ड कप में मेन टीम के प्रदर्शन का ख्याल आता है। मेन टीम भी वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में अपने सभी मुकाबले जीती थी, लेकिन फाइनल मैच हार गई थी। बहरहाल, हम यह बता रहे हैं कि अंडर-19 वर्ल्ड कप का पहला खिताब भारत को जीताने वाले खिलाड़ी कौन-कौन थे? आज वह कहां और किन हालातों में हैं।

1998 में शुरू हुआ था अंडर-19 वर्ल्ड कप

अंडर-19 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का आगाज साल 1998 में किया गया था। इसके तीसरे सीजन के फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम की जीत हुई थी। इससे पहले भारतीय टीम ने साल 2000 में खिताब जीता था। इस खिताब को जीताने वाले ये खिलाड़ी हैं....

1. मोहम्मद कैफ: मोहम्मद कैफ अंडर-19 वर्ल्ड कप के दो महीने बाद ही मेन टीम में शामिल हो गए थे। कैफ अपनी बल्लेबाजी के अलावा बेहतरीन फील्डर थे। उसके बाद कैफ 2006 के बाद से टीम से बाहर हो गए। 2017 से कैफ घरेलू क्रिकेट में कोचिंग और ब्रॉडकास्टर की भूमिका में हैं।

2. मनीष शर्मा : यह अंडर-19 वर्ल्ड कप के वक्त सलामी बल्लेबाज के रूप में टीम इंडिया में थे। उन्होंने काफी घरेलू क्रिकेट खेला था। हालांकि आईपीएल के बाद वह प्रोफेशनल क्रिकेट नहीं खेल सके।

3. रवनीत रिकी: टीम इंडिया की अंडर-19 टीम के वर्ल्ड कप विजेता रवनीत रिकी कभी इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं मिल सके। वैसे, रिकी ने घरेलू क्रिकेट में काफी योगदान दिया। रिकी ने घरेलू क्रिकेट में कैफ के खिलाफ भी क्रिकेट खेला है। वैसे, रिकी के प्रोफाइनल के मुताबिक अभी वह एयर इंडिया के साथ जुड़े हैं।

4. युवराज सिंह : भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर युवराज सिंह भी अंडर-19 वर्ल्ड कप 2000 की विजेता टीम में थे। उनको अंडर-19 वर्ल्ड कप 2000 में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था। उसके बाद युवराज ने इंटरनेशन क्रिकेट में डेब्यू किया। साल 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और साल 2011 वनडे वर्ल्ड कप में विजेता टीम का भी हिस्सा रहे। उसके बाद क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

5. रीतिंदर सिंह सोढ़ी : रीतिंदर सिंह सोढ़ी ने बॉलिंग ऑलराउंडर की भूमिका निभाई थी। अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में रीतिंदर प्लेयर ऑफ द मैच के लिए चुने गए थे। उनको नेशनल टीम में खेलने का मौका मिला। कुल 18 वनडे मुकाबले खेले हैं। हालांकि रीतिंदर अब टीवी पर एक्सपर्ट की भूमिका में नजर आते हैं।

6. नीरज पटेल : नीरज भी अंडर-19 वर्ल्ड कप विजेता टीम का हिस्सा थे। नीरज ने इंडिया ए टीम में जगह भी बनाई थी। इन्होंने आईपीएल 2008 में राजस्थान रॉयल्स को चैंपियन बनाया था।

7. वेणुगोपाल राव : यह वर्ल्ड कप जीतने के बाद टीम इंडिया में डेब्यू किए थे। उन्होंने भारत के लिए 16 वनडे मुकाबले ही खेले हैं। वह आईपीएल खेल चुके हैं। साल 2009 में डेक्कन चार्जर्स को चैंपियन बनाए थे।

8. अजय रत्रा : अजय को टीम इंडिया में खेलने का मौका मिला था। उन्होंने 2002 में वेस्टइंडीज दौरे में शानदार शतक लगाया था। इस शतक के साथ वह सबसे कम उम्र में ऐसा करने वाले पहले विकेटकीपर बल्लेबाज बने थे। अजय ने 6 टेस्ट और 12 वनडे मैच खेले हैं। अब वह राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में बतौर कोच काम रहे हैं।

9. अनुप दवे: अनुप ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में शानदार गेंदबाजी की थी। उस दौरान वह दूसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। हालांकि 2018 में उन पर 'कुड बी ए हीरो' नामक जीवनी भी जारी हुई थी। उन्होंने 2006 तक क्रिकेट खेला।

10. मृत्युंजय त्रिपाठी : मृत्युंजय वर्ल्ड कप में बतौर गेंदबाज के रूप में टीम का हिस्सा थे। वह साल 2004 में ही क्रिकेट से दूर हो गए थे। उससे पहले उन्होंने घरेलु क्रिकेट में उत्तर प्रदेश के लिए खेला हुआ है।

11. शलभ श्रीवास्तव: शलभ ने वर्ल्ड कप के बाद घरेलू क्रिकेट में कदम रखा। वह आईपीएल 2010 और 2011 में नजर आए थे। मगर, आईपीएल 2012 में स्पॉट फिक्सिंग घोटाले उन्हें पांच साल के लिए बैन किया गया था।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.