Dhoni से ध्रुव जुरेल की तुलना पर Sourav Ganguly का दो टूक जवाब, कोई भी धोनी नहीं बन सकता...

Dhoni and Dhruv Jurel: इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के दौरान टीम इंडिया में डेब्यू करने वाले ध्रुव जुरेल ने अपने बेहतरी प्रदर्शन से सबका दिल जीत लिया है। डेब्यू मैच में 46 रनों की पारी खेली थी।
महेंद्र सिंह धोनी, ध्रुव जुरेल और सौरव गांगुली।
महेंद्र सिंह धोनी, ध्रुव जुरेल और सौरव गांगुली। रफ्तार।

नई दिल्ली, रफ्तार। इंग्लैंड टेस्ट सीरीज के दौरान टीम इंडिया में डेब्यू करने वाले ध्रुव जुरेल ने अपने बेहतरी प्रदर्शन से सबका दिल जीत लिया है। डेब्यू मैच में ही 104 गेंदों पर 46 रनों की पारी खेली थी। टीम के कप्तान और करोड़ों फैंस ने ध्रुव का लोहा माना है। डेब्यू खिलाड़ी ने रांची टेस्ट मैच की पहली पारी में 149 गेंदों पर 90 रनों की पारी खेली थी। बल्लेबाज शतक से भले चूके, लेकिन उनकी यह पारी कई शतकों से बढ़कर थी। इसको देखकर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने ध्रुव की तुलना महेंद्र सिंह धोनी से की है, जिस पर पूर्व दिग्गज खिलाड़ी एवं कप्तान सौरव गांगुली का रिएक्शन आया है।

ध्रुव में धोनी की छवि : गावस्कर

ध्रुव की दोनों पारियों ने भारत को चौथे टेस्ट मैच में जीत दिला दिया था। इस कारण सुनील गावस्कर ने उनकी तुलना महेंद्र सिंह धोनी से कर दी। गावस्कर ने कहा कि उन्हें ध्रुव में धोनी की छवि दिखती है। अब सौरव गांगुली ने कहा है कि महेंद्र सिंह धोनी को खुद महेंद्र सिंह धोनी बनने में 20 साल लग गए थे। जबकि, धोनी को धोनी बनने में 15 साल का लंबा वक्त लगा था।

कोई भी धोनी नहीं बन सकता : गांगुली

गांगुली के बयान से साफ है कि उन्होंने इशारों-इशारों में कह दिया कि किसी भी खिलाड़ी के एक पारी में अच्छा खेल दिखाने से उनकी तुलना धोनी से नहीं कर सकते। गांगुली ने कहा, धोनी एक अलग लेवल के खिलाड़ी थे। कोई भी खिलाड़ी धोनी की बराबरी में नहीं आ सकता। ध्रुव में अच्छा प्रतिभा है। उन्होंने दबाव में अच्छा प्रदर्शन किया है। वह अच्छा खेल रहे हैं, उन्हें खेलने दीजिए। वह स्पिन करें और साथ में तेज गेंदबाजों को भी अच्छा खेल सकते हैं। टीम को एक बल्लेबाज से यही उम्मीद होती है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.