sarthak-chavan-achieved-historic-victory-in-thailand-talent-cup
sarthak-chavan-achieved-historic-victory-in-thailand-talent-cup

सार्थक चव्हाण ने थाईलैंड टैलेंट कप में ऐतिहासिक जीत हासिल की

थाईलैंड, 11 मई (आईएएनएस)। होंडा रेसिंग इंडिया के राइडर सार्थक चव्हाण ने यहां चांग इंटरनेशनल सर्किट में थाईलैंड टैलेंट कप (टीटीसी) 2022 राउंड 2 में ऐतिहासिक जीत हासिल की। होंडा रेसिंग इंडिया के रेसिंग इतिहास में यह पहली बार है, जब किसी भारतीय राइडर ने यह शानदार उपलब्धि हासिल की है। शानदार प्रदर्शन करते हुए पुणे के 15 वर्षीय राइडर ने ग्रिड पर अपनी 12वें स्थान से शुरू करने के बाद शीर्ष 5 में पहुंचने के लिए राउंड रेस 2 में जबरदस्त रेसिंग कौशल दिखाई। कठिन परिस्थितियों में प्रतिद्वंद्वियों को कड़ी टक्कर देते हुए सार्थक ने बेहतरीन एशियाई राइडर्स को चुनौती दी और रेस लीडर से महज 0.583 सेकेंड पीछे रहकर तीसरे स्थान पर फिनिश किया। सार्थक ने कहा, मैं इस रेस में अपने प्रदर्शन से बहुत खुश हूं, क्योंकि मैं ट्रैक पर शत प्रतिशत देने में सक्षम था, जिसके कारण मैंने पोडियम पर तीसरा स्थान हासिल किया। इस जीत ने मेरा आत्मविश्वास बढ़ाया है और मैं देश के लिए और अधिक सम्मान लाने के लिए कड़ी मेहनत करना जारी रखूंगा। सार्थक की टीम के साथी केविन क्विंटल (16 वर्षीय) ने भी रेस में आत्मविश्वास से भरे युवा भारतीय राइडर की ताकत दिखाई। 16 राइडर्स की ग्रिड पर 15वें स्थान से शुरुआत करते हुए चेन्नई के इस लड़के ने अच्छी शुरुआत की और लैप 1 में ही 5 राइडर्स को पीछे छोड़ दिया। वहां से रेस 2 के अंत तक, केविन कड़ी प्रतिस्पर्धा के माध्यम से बने रहे और 29:50.42 के कुल समय के साथ 9वें स्थान पर खत्म किया। दो राइडर्स के संयुक्त प्रयास ने टीम को 32 अंक हासिल करने में मदद की। होंडा रेसिंग इंडिया टीम ने थाईलैंड टैलेंट कप 2022 के दूसरे दौर में कुल 13 अंकों के साथ प्रवेश किया। राउंड 2 की क्वालीफाइंग रेस में ग्रिड पर 12वां और 15वां स्थान हासिल करने के बाद सार्थक चव्हाण और केविन क्विंटल ने रेस 1 में आक्रामकता दिखाई और क्रमश: 9वें और 13वें स्थान पर पहुंच गए। इसके साथ, सार्थक ने 6 अंक और केविन ने 4 अंक प्राप्त किए। थाईलैंड टैलेंट कप 2022 के दूसरे दौर की समाप्ति के साथ, सार्थक चव्हाण के अब कुल 35 अंक हैं, जबकि उनके साथी केविन के पास 10 अंक हैं। --आईएएनएस आरजे/एसकेपी

Related Stories

No stories found.