महिला प्रीमियर लीग से मालामाल BCCI, टीमों के लिए लगी 4,670 करोड़ रुपये की रिकॉर्ड बोली

जय शाह ने कहा कि बीसीसीआई ने टूर्नामेंट का नाम महिला प्रीमियर लीग रखा है। बीसीसीआई ने महिला प्रीमियर लीग के लिए टीमों की बोली से 4670 करोड़ रुपए की बड़ी रकम हासिल की है।
women cricket team
women cricket team

नई दिल्ली, एजेंसी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने महिला प्रीमियर लीग के लिए टीमों की बोली से 4670 करोड़ रुपए की बड़ी रकम हासिल की है। बीसीसीआई सचिव जय शाह ने बुधवार को टि्वटर पर जानकारी दी। जय शाह ने कहा कि बीसीसीआई ने टूर्नामेंट का नाम महिला प्रीमियर लीग रखा है। उन्होंने यह भी बताया कि बोली राशि से प्राप्त कुल राशि, 2008 में पुरुष आईपीएल के उद्घाटन संस्करण के लिए टीमों की लगाई गई बोली से प्राप्त राशि से अधिक है।

शाह ने ट्विट किया, "क्रिकेट में आज एक ऐतिहासिक दिन है क्योंकि महिला आईपीएल के उद्घाटन संस्करण के टीमों के लिए लगी बोली ने 2008 में पुरुषों के आईपीएल के उद्घाटन संस्करण के रिकॉर्ड को तोड़ दिया! विजेताओं को बधाई, क्योंकि हमने कुल बोली से 4669.99 करोड़ रुपये जुटाए। बीसीसीआई ने लीग का नाम महिला प्रीमियर लीग रखा है। " शाह ने आगे कहा,"यह महिला क्रिकेट में एक क्रांति की शुरुआत को चिह्नित करता है और न केवल हमारी महिला क्रिकेटरों के लिए बल्कि पूरे खेल जगत के लिए एक परिवर्तनकारी यात्रा का मार्ग प्रशस्त करता है। महिला प्रीमियर लीग, महिला क्रिकेट में आवश्यक सुधार लाएगा।"

शुरुआत में खेलेंगी पांच टीमें

बीसीसीआई ने एक अलग ट्वीट में उन पांच फ्रेंचाइजी के नामों का खुलासा किया जिन्होंने टीमों के लिए बोली लगाई थी। अडानी स्पोर्ट्सलाइन प्राइवेट लिमिटेड ने अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के लिए 1289 करोड़ रुपये की भारी भरकम बोली जीती। मुंबई फ्रेंचाइजी को इंडियाविन स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड ने 912.99 करोड़ रुपये में जीता था। बेंगलुरु की फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड को 901 करोड़ रुपये में मिली। जेएसडब्ल्यू-जीएमआर क्रिकेट प्राइवेट लिमिटेड ने 810 करोड़ रुपये की बोली के साथ दिल्ली फ्रेंचाइजी जीती, जबकि कैपरी ग्लोबल होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड ने लखनऊ फ्रेंचाइजी को 757 करोड़ रुपये में खरीदा।

बता दें कि वायकॉम 18 ने पहले ही 2023-2027 चक्र के लिए महिला प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मीडिया राइट्स को 951 करोड़ रुपये में हासिल कर लिया है, जिसका अर्थ अगले 5 वर्षों के लिए प्रति मैच मूल्य 7.09 करोड़ रुपये है।

Related Stories

No stories found.