RJ Election: कांग्रेस ने देर रात जारी की 5 उम्मीदवारों की पांचवीं सूची, यहां जानिए किस को कहां से मिला टिकट?

Jaipur: राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने मंगलवार देर रात पांचवीं सूची जारी की है। इस सूची में पांच उम्मीदवारों के नाम हैं। कांग्रेस 200 में से अब तक 156 सीटों पर उम्मीदवार घोषित कर चुकी है।
Rajasthan Assembly Election
Rajasthan Assembly ElectionRaftaar.in

जयपुर, हि.स.। राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने मंगलवार देर रात पांचवीं सूची जारी की है। इस सूची में पांच उम्मीदवारों के नाम हैं। कांग्रेस 200 में से अब तक 156 सीटों पर उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। पांचवीं सूची में फुलेरा से विद्याधर चौधरी, जैसलमेर में रूपाराम मेघवाल, पोकरण से शाले मोहम्मद, आसींद से हंगामी लाल मेवाड़ा और जहाजपुर से धीरज गुर्जर को मैदान में उतारा गया है।

कांग्रेस ने मंगलवार शाम चौथी सूची की जारी

अब तक कांग्रेस अपने 102 विधायकों में से 77 को फिर टिकट दे चुकी है। इसी तरह नौ निर्दलीय और बसपा से आए चार विधायकों को भी सियासी संकट में साथ देने की एवज में टिकट देकर उपकृत किया जा चुका है। कांग्रेस ने मंगलवार शाम चौथी सूची जारी कर 56 उम्मीदवार घोषित किए ।

इस सूची में आठ विधायकों के टिकट काटे गए हैं तथा 10 विधायकों को दोबारा मौका दिया है। टिकट कटने वालों में कांग्रेस के छह विधायकों के अलावा तिजारा से बसपा विधायक संदीप यादव और गंगानगर से निर्दलीय विधायक राजकुमार गौड़ भी शामिल हैं। बसपा से आए दो और दो निर्दलीय विधायक को कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार बनाया है।

पहले की सूचियों में इनको मिला टिकट

कांग्रेस की पहले आई तीन सूचियों में दो विधायकों के टिकट काटे गए थे, लेकिन उनके परिवार में ही दिए गए। चौथी सूची में छह और कांग्रेस विधायकों के टिकट काटे गए हैं। कांग्रेस विधायकों में सांगोद से भरतसिंह कुंदनपुर, बसेड़ी से खिलाड़ी लाल बैरवा, हिण्डौन से भरोसीलाल जाटव, राजगढ़-लक्ष्मणगढ़ से जौहरीलाल मीणा, कठूमर से बाबूलाल बैरवा और बिलाड़ा से हीरालाल का टिकट काटा गया है। तिजारा में बसपा विधायक संदीप यादव की जगह मुस्लिम चेहरे के रूप में इमरान खान को टिकट दिया गया है।

कुछ नेताओं से कांग्रेस आलाकमान ने जताई नाराजगी

कांग्रेस एआईसीसी प्रवक्ता गौरव वल्लभ को राजस्थान लेकर आई है। उन्हें उदयपुर से उम्मीदवार बनाया है। बसपा से कांग्रेस में आए नदबई विधायक जोगेन्द्र अवाना और किशनगढ़बास विधायक दीपचंद खैरिया को भी कांग्रेस ने टिकट दिया है। इसी तरह निर्दलीय थानागाजी से विधायक कांति प्रसाद मीणा और खंडेला विधायक महादेव सिंह खंडेला को टिकट दिया है।

मंत्री सालेह मोहम्मद को टिकट मिल गया है। लेकिन, कोटा उत्तर से शांति धारीवाल, हवामहल से महेश जोशी और राजस्थान पर्यटन निगम के अध्यक्ष धर्मेन्द्र राठौड़ पर अब तक कोई निर्णय नहीं किया गया है।

पिछले साल 25 सितम्बर को विधायक दल की बैठक के सामानांतर बैठक कर पार्टी का अनुशासन तोड़ने के लिए इन तीनों नेताओं को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था। माना जा रहा है कि आलाकमान की नाराजगी के चलते इन तीनों को टिकट मिलने पर संशय की स्थिति बनी हुई है। इनके अलावा मंत्री हेमाराम चौधरी और लालचंद कटारिया चुनाव लड़ने से इनकार कर रहे हैं और जाहिदा खान का भारी विरोध है।

कांग्रेस ने अब तक 12 मुस्लिम को उम्मीदवार बनाया

कांग्रेस ने अब तक 12 मुस्लिम को उम्मीदवार बनाया है। चौथी सूची में सालेह मोहम्मद, रफीक मंडेलिया, इमरान खान, जाकिर हुसैन गैसावत और अमीन खान को उम्मीदवार बनाया है। इसके पहले दानिश अबरार, हाकम अली, अमीन कागजी, रफीक खान, नसीम अख्तर इंसाफ, जुबेर खान और बसपा से कांग्रेस में आए वाजिब अली को टिकट दिया था।

कांग्रेस ने चौथी सूची में सात और महिलाओं को उम्मीदवार बनाया

कांग्रेस ने चौथी सूची में सात और महिलाओं को उम्मीदवार बनाया है। पहले की दो सूचियों में 13 महिलाओं को टिकट दिए गए थे। इस तरह अब तक 20 महिला उम्मीदवार पार्टी ने उतार दिए हैं। सूची में आठ विधायक ऐसे हैं जिनकी उम्र 70 साल से ज्यादा है। इनमें सुरेन्द्र गोयल 71, बद्रीजाखड़ 71, दीपेन्द्र सिंह शेखावत 72, भीमराज भाटी 76, महादेव सिंह खंडेला 80, दीपचंद खैरिया 82, हरिमोहन शर्मा 83 और अमीन खां 85 वर्ष के हैं।

इन विधायकों को कांग्रेस ने उतारा मैदान में

कांग्रेस ने 13 विधायकों को मैदान में उतारा है, इनमें मंत्री सालेह मोहम्मद के अलावा कांग्रेस के दीपेंद्र सिंह शेखावत, अमरसिंह जाटव, इंदिरा मीणा, प्रशांत बैरवा, पदमाराम मेघवाल, नगराज मीणा, राजेंद्र सिंह बिधूड़ी, अमीन खान, रूपाराम मेघवाल शामिल हैं। वहीं बसपा से कांग्रेस में आए दीपचंद खैरिया, जोगेंद्र सिंह अवाना और निर्दलीय विधायक महादेव सिंह खंडेला व कांतिप्रसाद मीणा को टिकट दिया है।

बीकानेर शहर कांग्रेस के अध्यक्ष यशपाल गहलोत को पिछले विधानसभा चुनाव में कांगेस का दो दफा टिकट मिला, लेकिन दोनों बार ही टिकट कट गया। इस बार फिर बीकानेर पूर्व से उम्मीदवार बनाया है। भाजपा की वर्तमान विधायक सिद्धि कुमारी से उनका मुकाबला होगा। पिछले चुनाव में यशपाल को पहले बीकानेर पश्चिम से टिकट मिला था। लेकिन बाद में उनका टिकट काटकर बीडी कल्ला को दे दिया। फिर गहलोत को बीकानेर पूर्व से टिकट मिला। लेकिन उस समय के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के दबाव के चलते कन्हैया लाल झंवर को बीकानेर पूर्व से उतार दिया गया। अब उन्हें फिर बीकानेर पूर्व से मौका दिया है।

अन्य खबरों के लिए क्लिक करें:- www.raftaar.in

Related Stories

No stories found.