Mukhtar Ansari Death: आखिरी कॉल पर मुख्तार अंसारी ने बेटे उमर से क्या बात की थी? सामने आया ऑडियो

मुख्तार अंसारी के आखिरी फोन कॉल का ऑडियो सामने आया है। इस कॉल में मुख्तार लगातार तबीयत खराब होने और कमज़ोरी होने की बात कह रहा है।
Mukhtar Ansari
Mukhtar AnsariRaftaar.in

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क। गैंगस्टर-नेता मुख्तार अंसारी के आखिरी फोन कॉल की रिकॉर्डिंग सामने आई है। इस कॉल में मुख्तार अंसारी ने अपने बेटे-बहू से बात की थी। कॉल में मुख्तार बार-बार अपनी तबीयत खराब होने का जिक्र कर रहा है। वहीं, उसका बेटा उमर उससे हिम्मत रखने को कह रहा है, साथ ही जल्द ही परमिशन लेकर मिलने आने की बात कह रहा है।

आज तक ने मुख्तार के कथित आखिरी फोन कॉल की रिकॉर्डिंग अपने टीवी चैनल पर सुनाई है। इसमें फोन पहले मुख्तार अंसारी की बहू उठाती है। शुरुआती बातचीत में ही निकहत कहती है कि मुख्तार की आवाज़ बेहद डल लग रही है। इसके बाद मुख्तार से उमर की बात होती है।

उमर- पापा आप ठीक हैं

मुख्तार- हां बाबू ठीक हैं। 18 तारीख के बाद से रोजा ही नहीं हैं। एकदम बेहोशी टाइप हो जा रहे हैं। कमजोरी लग रही है।

उमर- हां, आप कमजोर हो गए हैं। हमने वीडियो में देखा। आप डिस्चार्ज हुए तो न्यूज़ वाले दिखा रहे थे। मिलने की परमिशन निकलवा रहे हैं, एक दो दिन में परमिशन निकलवा के आएंगे मिलने।

मुख्तार- हां, दो दिन, चार-पांज दिन लेके आओ, ताकि हम उठ भी सकें। हम उठ-बैठ नहीं पा रहे हैं।

उमर- हम समझ रहे हैं, दिख ही रहा है जहर का असर है। आप जल्दी सही हो जाएंगे। आप हिम्मत करके फोन कर लिया कीजिए पापा, आपकी आवाज़ सुनकर जान में जान आ गई।

मुख्तार- हां बाबू, अल्लाह को रखना होगा तो रूह रहेगी, बॉडी तो चली जाती है।

उमर- आप हिम्मत रखिए पापा, अभी हमें हज पर जाना है, आप बहुत हिम्मती हैं, कोई और होता तो मर जाता पापा

मुख्तार- बॉडी कंट्रोल नहीं हो पा रही है, अभी हम व्हील चेयर पर आए हैं, खड़े नहीं हो पा रहे हैं।

उमर- पेशी पर कोशिश करिए कि जज साब से आप हर जगह अपनी बात किए

मुख्तार- आज आए थे न, तो बेहोश हो गए

उमर- वॉशरूम हो रहा है न? या लूज़ मोशन हो रहा है

मुख्तार- 10 दिन से मोशन हुआ ही नहीं है, कुछ हो ही नहीं रहा है

उमर- हम जल्दी आएंगे पापा आपसे मिलने

मुख्तार- अभी इस लायक बॉडी नहीं है, कि तुम हमसे बोल पाओगे, सुन पाओगे

मुख्तार अंसारी की 28 मार्च की रात हार्ट अटैक से मौत हो गई। मुख्तार के परिवार ने आरोप लगाया है कि उसे जेल के अंदर खाने में धीमा ज़हर दिया जा रहा था। मुख्तार अंसारी ने भी 21 मार्च को बाराबंकी कोर्ट में बताया था कि उसकी सेहत बिगड़ रही है। मुख्तार अंसारी ने लिखा था कि 19 मार्च को रात के खाने में उसे कुछ मिलाकर दिया गया था। जिसे खाने के बाद उसकी नसों में दर्द शुरू हो गया था और बाद में दर्द पूरे शरीर में फैल गया था।

Related Stories

No stories found.