ओडिशा ट्रेन दुर्घटना के बाद ट्विटर पर हैशटैग लाल बहादुर शास्त्री का नाम क्यों करने लगा ट्रेंड?, जानिए वजह

ओडिशा रेल दुर्घटना के बाद तुरंत ट्विटर पर पूर्व रेलमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का नाम ट्रेंड करने लगा। लाल बहादुर शास्त्री का नाम रेल दुर्घटना के बाद ट्रेंड करना कोई नया नहीं है।
ओडिशा ट्रेन दुर्घटना के बाद ट्विटर पर हैशटैग लाल बहादुर शास्त्री का नाम क्यों करने लगा ट्रेंड
ओडिशा ट्रेन दुर्घटना के बाद ट्विटर पर हैशटैग लाल बहादुर शास्त्री का नाम क्यों करने लगा ट्रेंड

नई दिल्ली, रफ्तार न्यूज डेस्क। ओडिशा के बालासोर जिले में शुक्रवार देर शाम को बड़ी रेल दुर्घटना हुई, जिसमें बताया जा रहा है कि अब तक 238 लोगों की मौत हो गई है। फिलहाल, दुर्घटना की वजह तीन ट्रेनों के आपस में भीषण रूप से टकराने से बताई जा रही है। चेन्नई जा रही कोरोमंडल एक्सप्रेस के डिब्बे पटरी से उतर कर नजदीक के ट्रैक पर जा गिरे, जहां से बेंगलुरु हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस जा रही थी। इसके बाद कोरोमंडल के डिब्बे मालगाड़ी से भी टकरा गए। यहां पर तीनों ट्रेनों के आपस में भयंकर रूप से टक्कर होने से दुर्घटना हुई। हालांकि, इस दुर्घटना की कई वजह बताई जा रही हैं, जो जांच के बाद सामने आएगा। आइए जानते है कि ट्विटर पर पूर्व रेल मंत्री लाल बहादुर शास्त्री का नाम क्यों करने लगा ट्रेंड...

पूर्व रेल मंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने दिया था इस्तीफा

ओडिशा रेल दुर्घटना के बाद तुरंत ट्विटर पर पूर्व रेलमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का नाम ट्रेंड करने लगा। लाल बहादुर शास्त्री का नाम रेल दुर्घटना के बाद ट्रेंड करना कोई नया नहीं है। जब भी भारत में ट्रेन हादसे होते हैं, शास्त्री का नाम ट्रेंड करना शुरू हो जाता है। इसके पीछे की मुख्य वजह है कि जब भारत के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की सरकार में लाल बहादुर शास्त्री रेल मंत्री थे, उस समय 1956 में महबूबनगर में रेल दुर्घटना हुई थी, जिसमें 112 लोगों की मौत हो गई थी। शास्त्री ने इस हादसे की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पूर्व पीएम नेहरू को अपना इस्तीफा देने की पेशकश की थी हालांकि, उस दौरान उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया गया था। इस दुर्घटना के मात्र तीन महीने बाद नवंबर में तमिलनाडु के अरियालुर रेल दुर्घटना हुई, जिसमें 142 लोगों की जान चली गई थी। इस बार पीएम नेहरू ने उनका इस्तीफा स्वीकार करते हुए संसद में कहा था कि उनका इस्तीफा इसलिए स्वीकार किया जा रहा है कि ताकि आने वाले समय में लोगों के लिए नजीर बने।

नीतीश कुमार ने भी दिया था इस्तीफा

पूर्व रेल मंत्री लाल बहादुर शास्त्री के बाद नीतीश कुमार ऐसे दूसरे रेल मंत्री रहे हैं, जिन्होंने रेल दुर्घटना के बाद इस्तीफा दिया था। उन्होंने 1999 में पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में गैसाल में रेल हादसे के बाद इस्तीफा दिया था। नीतीश के बाद 2000 में वर्तमान बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने भी रेल दुर्घटना के बाद इस्तीफा देने की पेशकश की थी, लेकिन अटल बिहारी वाजपेयी ने उनका इस्तीफा मंजूर नहीं किया था।

इसी तरह की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए हमारी वेबसाइट www.raftaar.in पर जाएं।

Related Stories

No stories found.