Attack on Azad: फेसबुक पर चंद्रशेखर आजाद रावण को मिली धमकी, कहा- अगली बार नहीं बचोगे

Attack on Azad: आजाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद रावण को फेसबुक पोस्ट पर मिली धमकी कहा- अगली बार नहीं बचोगे।
Chandrashekhar Azad
Chandrashekhar Azad

नई दिल्ली, रफ्तार डेस्क।  आजाद समाज पार्टी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद रावण पर बीते बुधवार को देवबंद में जानलेवा हमला हुआ था। उन पर यह हमला उस वक्त हुआ जब वह एक कार्यक्रम में जा रहे थे। कार्यक्रम में जाते समय कुछ अज्ञात लोगों ने उन पर गोली चला दी थी जो उनके कमर से छूकर निकल गई थी। इसके बाद चंद्रशेखर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इसी बीच चंद्रशेखर आजाद को एक फेसबुक पोस्ट पर धमकी मिलने की खबर सामने आई। फेसबुक पर मिली इस धमकी में कहा गया है, अगली बार नहीं बचोगे।

क्या है पूरा ममला?

दरअसल, क्षत्रिय ऑफ अमेठी नाम से बने पेज द्वारा शेयर एक पोस्ट में कहा गया कि, चंद्रशेखर रावण को जिस दिन भी मारेंगे अमेठी के ठाकुर मारेंगे, वह भी बीच चौराहे पर। वहीं, गुरुवार को इसी पेज पर फिर से एक धमकी दी गई। इस पोस्ट में लिखा गया, भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर रावण पर जानलेवा हमला। चंद्रशेखर रावण की कमर में लगी गोली। लेकिन बच गया......, अगली बार नहीं बचेगा। इसी फेसबुक पेज पर आगे लिखा गया, रावण बहुत शातिर आदमी है। इसको सुरक्षा व्यवस्था चाहिए। भौकाल बनाने के लिए बुलेटप्रूफ गाड़ी चाहिए। बुलेट प्रूफ जैकेट चाहिए। किसी भी बेगुनाह राजपूत को अगर फंसाया जाता है आंदोलन बहुत बड़ा हो जाएगा ध्यान रहे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चंद्रशेखर आजाद को हमले से 5 दिन पहले भी फेसबुक पर धमकी दी गई थी।

पुलिस ने दर्ज किया मामला

सहारनपुर के देवबंद थाने में भीम आर्मी के पदाधिकारी और चंद्र शेखर के साथी मनीष कुमार की शिकायत पर FIR दर्ज की कर ली गई है। दर्ज केस में हत्या के प्रयास के साथ-साथ एससी-एसटी एक्ट भी लगाया गया है। हमलावर जिस स्विफ्ट कार से आए थे, उसका नंबर एचआर 70 डी 0278 बताया जा रहा है। पुलिस ने हमलावरों द्वारा इस्तेमाल कार को बरामद कर लिया है। इसके साथ पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में भी लिया है। साथ पुलिस ने फेसबुक पर धमकी के मामले में भी मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

चंद्रशेखर ने सीएम का मांगा इस्तीफा

चंद्रशेखर ने अपने ऊपर हुए इस हमले को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, कल की घटना आज भले हीं मेरे साथ घटी है, लेकिन आगे किसी भी समय ऐसी घटनाएं किसी भी दूसरी राजनीतिक पार्टियों के प्रमुखों और उनके समर्थकों के साथ घट सकती है। क्योंकि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था लगातार बद से बदतर होती जा रही है। और सरकार अपराधियों को जाति और धर्म के आधार पर प्रश्रय देकर उसे संरक्षण प्रदान कर रही है। चंद्रशेखर ने कहा, मैं गोली और बंदूकों से डरने वाला नहीं, मेरा 56 इंच का सीना असली है नकली नहीं। उन्होंने कहा मुझपर हुए हमले की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए।

Related Stories

No stories found.